फरवरी माह में दिल्ली में एक दिल दहला देने वाली घटना घटी थी. 23 साल के अंकित सक्सेना की रघुवीर नगर में उसके घर के सामने दरिंदगी से हत्या कर दी गई. अंकित का जुर्म था कि उसने एक मुस्लिम लड़की से प्यार कर लिया था. उसके हत्यारे कोई और नहीं लड़की के परिवार वाले थे. इस घटना के बाद इलाके में सांप्रयदायिक तत्व सक्रिय हो गए थे. हिन्दू-मुसलमान के बीच तनाव की स्थिति उत्पन्न की जा रही थी. तभी अंकित के पिता अपने बेटे के ख़ोने के ग़म को सीने में दबा कर क़ौमी एकता का संदेश देने सामने आते हैं और लोगों से ये कहते हैं कि मेरे बेटे की हत्या को राजनीतिक रंग देने की ज़रूरत नहीं है.

Image Source: dnaindia

लगभग 3 महीने पुरानी घटना का ज़िक्र हम आज क्यों कर रहे हैं? क्योंकि अंकित सक्सेना के पिता यशपाल सक्सेना 3 जून को मुस्लिम समाज के लोगों के लिए इफ़्तार पार्टी का आयोजन करने वाले हैं. इफ़्तार का आयोजन उनके घर के पास मौजूद पार्क में होगा.

यशपाल शर्मा ने अपने बेटे के नाम पर एक ट्रस्ट की शुरुआत की. इसके माध्यम से वो उन जोड़ों की मदद करना चाहते हैं जो अपने धर्म से बाहर जा कर शादी की करना चाहते हैं. 3 जून को होने वाली इफ़्तार पार्टी का आयोजन इस ट्रस्ट के बैनर तले ही होगा. इस काम में मदद करने के लिए कुछ NGO भी आगे आए हैं.

Image Source: scroll

यशपाल सक्सेना का कहना है कि इफ़्तार का इंतज़ाम ट्रस्ट के सदस्यों और अन्य परिवारों की मदद से की जा रही है.

उन्होंने ये भी कहा कि हम केस की प्रगति जानने के लिए पुलिस से संपर्क बनाए रखते हैं, इफ़्तार का पहला निमंत्रण हत्या की जांच करने वाले अधिकारियों को ही जाएगा.

Source: thelogicalindian