'पद्मावती' का नाम बदल कर 'पद्मावत' कर दिया गया, फ़िल्म में 300 कट लगा दिए गए, लेकिन अब भी विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. पहले फ़िल्म 1 दिसंबर, 2017 को रिलीज़ होने वाली थी, लेकिन करणी सेना के लगातार विरोध के बाद फ़िल्म की रिलीज़ को टालना पड़ा. अब चित्तौड़ के क्षत्रिय समुदाय की महिलाओं ने यहां तक कह डाला है कि अगर सरकार इस फ़िल्म की रिलीज़ पर रोक नहीं लगाती है, तो वो जौहर कर लेंगी.

सर्वसमाज सभा में इस फ़िल्म के ख़िलाफ़ विरोध प्रदर्शन जारी रखने का फ़ैसला लिया गया है. इस सभा में क़रीब 500 लोग शामिल हुए थे, जिनमें 100 महिलाएं भी थीं.

राजपूत करणी सेना के प्रवक्ता वीरेंद्र सिंह ने कहा है कि विरोध प्रदर्शन के तहत चित्तौड़गढ़ की सड़कें और रेलवे ट्रैक बंद कर दिए जायेंगे.

फ़िल्म 25 जनवरी को रिलीज़ होने वाली है. राजस्थान सरकार ने पहले ही राज्य में फ़िल्म रिलीज़ होने पर रोक लगा दी है.

वीरेंद्र सिंह ने कहा है कि इस सब के बाद भी यदि फ़िल्म रिलीज़ की गयी, तो क्षत्रिय समाज की महिलाएं 24 जनवरी को जौहर लेंगी. इसी दिन रानी पद्मावती ने भी जौहर किया था.

Source: Hindustantimes