शादी के बाद पहली रात जिसे आम बोल-चाल में सुहाग रात कहा जाता है, लड़का और लड़की दोनों के लिए एक ऐसा पल होता है, जिसे वो खुशगवार बनाना चाहते हैं ताकि ज़िंदगीभर पहली रात उन्हें याद रहे. ये सब एक तरह का रिवाज़ होता है, जो हर किसी की पहली रात यानी सुहागरात में ज़रूर देखने को मिलता है. लेकिन रिवाज़ के नाम पर कई बार कुछ ऐसी चीज़े होती हैं, जो इस रात को खुशनुमा तो बनाती हैं लेकिन थोड़ा शर्मनाक भी.

1. दूध का गिलास

दूल्हा-दूल्हन को पहली रात दूध का गिलास ज़रूर देखने को मिलता है, जिसे उन्हें पीना पड़ता है. दूध पीने का कारण ये है कि इससे पहली रात अच्छी और यादगार बनाने में उन्हें मदद मिलेगी.

2. पान

सुहागरात में दूल्हा-दूल्हन पान भी खाते हैं. पान मुंह की बदबू दूर करने के लिए होता.

3. सफ़ेद चादर

अकसर सुहागरात के वक़्त बिस्तर पर सफ़ेद चादर होती है. ये एक तरह का टेस्ट होता है जिसके ज़रिए पता चलता है कि लड़की कुआरी है या नहीं, धीरे-धीरे ये प्रथा खत्म हो रही है, लेकिन पूरी तरह से खत्म होने में इसे अभी काफ़ी वक़्त लगेगा.

4. रिश्तेदारों में सुहागरात की चादर की नुमाइश.

ये प्रथा काफ़ी अजीब है और समाज के एक बहुत बड़े हिस्से से इसे खत्म भी कर दिया है, लेकिन अभी भी देश के दूर दराज़ इलाकों में सुहागरात की चादर को रिश्तेदारों को दिखाया जाता है, जो एक तरह की पुष्टी होती है कि दूल्हन शादी से पहले कुवारी थी.

5. काल रात्री

बंगाल के एक रिवाज़ के अनुसार शादी की पहली रात दूल्हन पती के साथ नहीं सोती. दूल्हा और दूल्हन अलग-अलग कमरों में सोते हैं और अगली सुबह लड़की अपने पिता के घर चली जाती है. इसका कारण है कि लड़की एक रात में ये जान जाएं कि उसके ससुराल वालों का स्वभाव कैसा है और वो वहां रह सकती है या नहीं.

6. सुहागरात की सेज़

सुहागरात की सेज़ सजने का कारण होता है, फूलों की खूसबू. कहा जाता है कि फूलों की खुशबू से दूल्हा और दूल्हन रोमांटीक हो जाते हैं और उनकी पहली रात यादगार बनती है.

Image Source: punfeed

Feature Image: cyberspaceandtime