दुनिया के अलग-अलग हिस्सों से आये दिन कई विचित्र घटनाओं की ख़बरें आती रहती हैं, जिनको सुनकर हम उनपर विश्वास नहीं कर पाते पर वो वास्तव में सच होती हैं. जी हां, ऐसी ही एक विचित्र ख़बर आ रही है चीन के सिचुआन प्रांत से, जहां यात्री विमान में एक यात्री को गर्मी लगी तो उसने विमान की लैंडिंग से पहले ही इमरजेंसी एग्ज़िट द्वार को खोल दिया. इस हरकत के चरण बाद ही उसे गिरफ़्तार कर लिया गया.

Source: financialexpress

आइये अब जानते हैं पूरा मामला क्या था?

ibtimes में पब्लिश हुई ख़बर के अनुसार, ये घटना 28 अप्रैल की देर रात की है, जब 25 वर्षीय चीनी नागरिक चेन (पूरे नाम का खुलासा नहीं किया गया है) सिचुआन के दक्षिण पश्चिम प्रांत के मियांगयांग हवाई अड्डे पर विमान के लैंडिग का इंतज़ार कर रहा था और अचानक उसे गर्मी लगने लगी और उसने आपातकालीन निकास दरवाजे को खोल दिया. हालांकि, एक स्थानीय चीनी मीडिया आउटलेट कवर न्यूज में एयरलाइन के नाम गुप्त रखा गया है. इतना ही चीनी मीडिया ने उस शख़्स की पहचान को भी गुप्त रखा है, उसका पूरा नाम नहीं बताया गया है.

25 वर्षीय चेन ने सुरक्षा कर्मियों को बताया कि उसे जहाज़ में बहुत गर्मी और घुटन महसूस हो रही थी, इसलिए उसने खिड़की के हैंडल को नीचे की तरफ धक्का दिया और उसने विमान की खिड़की के जिस हैंडल को पकड़ा हुआ था, वो एमरजेंसी डोर के हैंडल से जुड़ा हुआ था. उसके खींचते ही वह दरवाजा खुल गया. इसके साथ ही उसने बताया कि जब एमरजेंसी डोर खुल गया, तो वो काफ़ी डर गया था.

Source: dailymail

इसके बाद क्रू मेंबर ने तुरंत ही पुलिस को इस बारे में सूचित किया और उसके बाद पुलिस ने उसे 15 दिनों के लिए हिरासत में ले लिया गया. इतना ही नहीं, उसपर विमान में हुई असुविधा की भरपाई के लिए 70,000 युआन (11,000 अमेरिकी डॉलर) का जुर्माना भी लगाया गया है.

इस बाबत एयरलाइन्स ने मामले की जांच में सुरक्षा एजेंसियों की हर संभव मदद करने की बात कही है. एयरलाइन के अनुसार, ' फ़्लाइट के टेक ऑफ से पहले फ़्लाइट अटेंडेंट यात्रियों को सुरक्षा सावधानियों के बारे में बताते हैं और इसी दौरान यात्रियों को आपात अवस्था में आपातकालीन द्वार के बारे में भी बताया जाता है.

Source: india

PTI, India, Beijing, के अनुसार,

चेन ने ख़ुद को निर्दोष बताते हुए कहा कि उसको नहीं पता था कि उसके ऐसा करने से इमरजेंसी द्वार खुल जाएगा. इसके साथ ही उसने ये भी कहा, 'प्लेन बहुत भरा हुआ था और मुझे गर्मी लग रही थी, घुटन हो रही थी. इसलिए मैंने अपनी सीट के पीछे वाले विंडों के हैंडल को नीचे कर दिया, पर अचानक ही दरवाज़ा खुल गया, ये देखकर मैं भी बहुत ज़्यादा डर गया था.'
Source: ibtimes

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ये ऐसा पहला मामला नहीं है, बल्कि इससे पहले भी चीन में इस तरह की घटना हो चुकी है. अप्रैल 2016, में दक्षिणी चीन के शेन्जेन हवाईअड्डे पर 30 वर्षीय एक शख़्स, जो बुलडोज़र ड्राइवर था, और पहली बार प्लेन में सफ़र कर रहा था, ने भी ताज़ी हवा लेने के लिए इमरजेंसी डोर खोल दिया था. उसने केबिन क्रू द्वारा दी जाने वाली चेतावनियों को नज़रअंदाज़ करते हुए टेकऑफ़ से ठीक पहले फ़्लाइट का आपातकालीन दरवाज़ा खोल दिया था. उसके बाद उसे भी पुलिस ने एक हफ़्ते तक हिरासत में रखा गया था. साथ ही उस पर फ़्लाइट की उड़ान में एक घंटे की देरी के लिए 500 युआन का जुर्माना भी लगाया गया था.

Source: ibtimes