ग्रेटर नोएडा के खुर्जा-झाझर रोड पर फिर से इंसानियत को शर्मसार किया गया. एक परिवार के 7 लोग, जेवर से बुलंदशहर में भर्ती अपने रिश्तेदार से मिलने गए थे. पर किसे पता था कि घर लौटते वक़्त उनकी ज़िन्दगी तबाह कर दी जाएगी.

Source: The North East Today

परिवार के एक सदस्य ने बताया,

'हम रात के करीब 1 बजे साबौटा गांव पहुंचे. हमें लगा कि हमारी गाड़ी के पहियों से कोई चीज़ आकर लगी है. हमने गाड़ी रोकी और उतरकर देखा कि गाड़ी के 2 पहिये पंचर हो चुके हैं.'

इन्होंने अपने घर पर फ़ोन कर अपने बड़े भाई से मदद मांगी.

परिवार के लोग गाड़ी से उतरे ही थे कि 6-7 बंदूकधारियों ने उन्हें घेर लिया. बंदूकधारियों ने परिवार के लोगों से मोबाईल फ़ोन, पर्स और जवाहरात आदि सब लूट लिए.

Source: India Today

इतने पर भी हैवानों का मन नहीं भरा, परिवार की 4 औरतों को अलग ले जाकर उन्होंने उनका सामूहिक बलात्कार किया. परिवार के एक सदस्य ने जब उन्हें रोकना चाहा, तो बदमाशों ने उसे गोली मार दी. उस व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई.

गौतम बुद्ध नगर के एसएसपी, लव कुमार ने बताया,

'हम छापेमारी कर रहे हैं और अपराधियों की तलाश जारी है. पीड़ितों को जांच के लिए अस्पताल भेज दिया गया है.'
Source: India TV

ये घटना, बुलंदशहर की उस घटना की याद दिला देती है, जब एक मां और उसकी 13 साल की बेटी के साथ भी बदमाशों ने सामूहिक बलात्कार किया था. ये परिवार भी नोएडा से शाहजहांपुर जा रहा था.

बलात्कार की हर कहानी लिखते हुए, दिल से सिर्फ़ एक ही आवाज़ निकलती है शुक्र है मैं ख़ुद किसी अखबार की सनसनीखेज़ खबर नहीं बनी हूं.

Source: TOI

Feature Image Source: HT (For representation purpose only)