पैसा फेंक, तमाशा देख!

आज के दौर में बिना पैसों के शिक्षा ग्रहण करना बिल्कुल वैसा ही है, जैसा बिना गाड़ी रोड पर सफ़र करना. अगर आप एक धनवान फ़ैमिली से हैं, तो उच्च शिक्षा के लिए होने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए कोंचिग वालों को मुंह मांगी रकम अदा कर सकते हैं. वरना आपको जो करना है अपने दम पर ही करना है. पर अब आपको पैसों के बारे में सोचने की ज़रुरत नहीं है. अगर किसी चीज़ पर ध्यान देना है, तो वो सिर्फ़ पढ़ाई है. क्योंकि सरकार ने इस समस्या का हल खोज निकाला है.

Source : india

दरअसल, 2019 से JEE, NEET और UGC NET परीक्षा की तैयारी के लिए मुफ़्त सरकारी कोचिंग उपलब्ध कराई जाएगी. इसके लिए नैशनल टेस्टिंग एजेंसी उच्च शिक्षण संस्थानों में प्रवेश के लिए होने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं का मुफ़्त आयोजन कराएगी. NTA 2,697 प्रैक्टिस सेंटर्स को अगले वर्ष टीचिंग सेंटर्स में तब्दील कर देगी.

HRD मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार, इस योजना के तहत छात्रों को न सिर्फ़ टेस्ट की तैयारी कराई जाएगी, बल्कि प्राइवेट कोचिंग की तरह पूरी पढ़ाई भी होगी. इसके अलावा 1 सितंबर से NTA की तरफ़ से मोबाइल ऐप और वेबसाइट लॉन्च की जाएगी. वहीं उसी दिन UGC-NET 2018 और JEE-Main की ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया भी शुरू होगी, जो कि 30 सितंबर तक चलेगी.

Source : navbharattimes

2019 मई में इन सेंटर्स में पढ़ाई शुरू होगी. पहले चरण में JEE-Main 2019 के लिए छात्रों का मॉक टेस्ट कराया जाएगा. साथ ही वो NEETUG, UGC-NET के लिए होने मॉक टेस्ट में भाग लेकर टीचर्स के साथ अपनी ग़लतियों पर विचार-विमर्श कर सकते हैं. सरकार की इस पहल का फ़ायदा गांवों और शहरों के बाहरी इलाकों में रहने वाले उन होनहार छात्रों को होगा, जो आर्थिक तंगी के चलते अपने सपनों को साकार नहीं कर पाते.

हांलाकि, स्टूडेंट्स से मोटी रकम वसूलने वाले प्राइवेट सेंटर्स के लिए ये बुरी ख़बर है. पर जो भी है ख़ुशी की बात ये है कि अब कोई भी छात्र पैसों की वजह से उच्च शिक्षा से वंचित नहीं रहेगा.

Source : TOI