दुनिया में दो तरह के लोग होते हैं पहले वो जो अपने सपनों को पूरा करने की चाहत रखते हैं, दूसरे वो जो सपनों को हक़ीक़त में बदलना जानते हैं. यूं तो वो एक महिला है, लेकिन कारनामें किसी पुरुष से कम नहीं हैं.

Africa ... my continent #6 ! After a year of being on the road I don’t know I miss roads more or home more now !!! But I know exactly what takes for a mind to be so strong and leave a happy home and family and head back to be on the road and finish the ride... lot of efforts and focus! Africa ... where I’m ! YES totally a new world ! Me like you guys heard a lot about it and not always been positive ... but who said it should be easy !!? And yes have my fears too like anybody else and I face and master them !I have all the questions You might have in ur head for being solo on African roads ... but somewhere deep down I believe everything will be fine as I learned and lived : one day and step at the time ... my prayers: existence Guide me and keep me in the best places to learn, protect me from anything can harm me and show me this beautiful world of yours filled with beautiful people ! And help me to not harm any human/animal/nature of urs ! And make me a better person for me and for all ! #onmybike #aroundtheworld

A post shared by Dr. Maral Yazarloo (Official) (@maralyazarloo) on

मिलिए Maral Yazarloo से, जो पिछले 15 सालों से पुणे में रह रही है. फिलहाल वो यूरोप की वादियों का आनंद ले रही है और अगस्त के महीने में भारत वापस लौट आएगी. इस महिला ने वो काम कर दिखाया है जो करने की सभी सोचते हैं, लेकिन कर कोई नहीं पाता. दरअसल, Maral पेशे से फ़ैशन डिज़ाइनर थी और उसे 9-5 की नौकरी करना बिल्कुल पसंद नहीं था.

Maral को ऐसा लगता था कि वो शायद इस काम के लिए नहीं बनी है. यही वजह थी कि एक दिन उसने अपना बैग पैक किया और बाइक से दुनिया घूमने निकल पड़ी. हांलाकि, सुनने में ये थोड़ा असंभव लगता है, लेकिन ये सच है. बता दें, बाइक द्वारा Maral अब तक 35 देश और 5 महादीपों का सफ़र तय कर चुकी हैं. इसके साथ ही वो Harley-Davidson, Ducati Diavel और BMW F650GS की मालकिन भी हैं.

Happy to announce I just finished the second leg of my ride 😊 Chicago to Ushuaia and Antarctica and back up to BsAs ! 63000 kms - 11months and 25 countries ! On “Ride to be one “ and in my total travel diaries crossed 90 countries ! Amazing Journey and surly life changing one ! I wish I could tell you all, life is absolutely different from how we live it ! Got smile on my face and happiness in my heart ... I love to achieve what I dreamt ! Now Nutella getting ready to fly to Africa 😊 real fun is waiting for us in beautiful Africa ! Thanks to all my friends and family for the support - love and care ! ♥️🙏🏻 ~~~~~~~~ va inam az ghesmate dovome safaram 😊 America ta akhare donya Ushuaia va Antarctica! 11 mahe ke Too jade hastam 25 keshvaro raftam va bishtar az 63000kms roondam ba Motor khanoom, Nutella 😄 va saarJamm bishtar az 90 ta keshvaro didam to 35 sale gozashte 😄 ! 😊 az tamame doostane azizam mamnoonam babate msgaie ghashango delgarm konandatoon ! Merci az supporte hamatoon! Ghesmate badie safar be Omid e khoda Africa va Europe va Enshalah Iran 🇮🇷😊🙏🏻 Love Maral Can’t believe already been 11 months since I left home ... I’m sure I remember these moments for whole life ! #beautifulworld #beautifulpeople #ridetobeone #maralyazarloo #worldtraveller

A post shared by Dr. Maral Yazarloo (Official) (@maralyazarloo) on

दरअसल, पढ़ाई के दौरान Maral ने रोड ट्रिप के दौरान अपने दोस्त के साथ बाइक चलाना सीखा था, जिसके बाद उसके दोस्त ने उसे बाइक चलाने के लिए प्रेरित किया. इतना ही नहीं, बाइक से दुनिया का लुत्फ़ उठाने वाली इस महिला ने ब्लॉग के ज़रिए लोगों से अपना अनुभव भी साझा किया. वो अब तक Bhutan, Southeast Asia, Australia, The US, Mexico, Central America, South America और Antarctica जैसे तमाम देशों का दौरा कर चुकी है.

इससे ज़्यादा ख़ुशी की बात क्या होगी कि इस सफ़र के दौरान Maral को उसका हमसफ़र भी मिला और दोनों हमेशा-हमेशा के लिए एक हो गये. वो हम सभी महिलाओं के लिए प्रेरणा है, साथ ही हम आशा करते हैं कि ये सफ़र यूं ही चलता रहे और हमेशा Maral हर किसी को यूं ही प्रोत्साहित करती रहें.

Source : Instagram