'भाई'... 'भाई'... 'भाई'... भाई हर जगह 'भाई' की फ़िल्म 'रेस 3' की चर्चा हो रही है. अब अपने सल्लू भाई की फ़िल्म आई थी, तो न देखने का सवाल ही नहीं उठता. छुट्टी का दिन था मैंने भी 3d टिकट बुक कराई और पहुंच गई सिनेमा हॉल, लेकिन कसम से फ़िल्म देखने के बाद महसूस हुआ कि मैंने अपने पैसों के साथ ज़िंदगी के 2 घंटे 46 मिनट भी बर्बाद कर दिए.

रेमो डिसूज़ा के निर्देशन में बनी इस फ़िल्म में आपको ख़ूब एक्शन देखने को मिलेगा या यूं कहिये कि सिर्फ़ एक्शन और एक्शन ही देखने को मिलेगा. अगर आप फ़िल्म देखने की प्लानिंग कर रहे हैं, तो एक बार ज़रा फ़िल्म में दिखाई गई इन चंद मज़ेदार ग़लतियों पर नज़र डाल लीजिए.

1. बीच फ़िल्म में 'भोजपुरी'

Source : dailyhunt

फ़िल्म में शमशेर सिंह का किरदार निभा रहे अनिल कपूर कई साल पहले उत्तर प्रदेश का हंडिया गांव छोड़ कर विदेश में शिफ़्ट हो चुके हैं, लेकिन ये क्या वो फ़िल्म के सीन में अपने दोस्त से बात करते-करते भोजपुरी बोलने लगते हैं और अपनी असली भाषा ही भूल जाते हैं. फ़िल्म में कई बार सलमान और अनिल कपूर को भी भोजपुरी बोलते सुना गया, जो की वाकई समझ के परे था.

2. 3d में देखना रिस्क से कम नहीं

Source : geo

अगर आप 3d में फ़िल्म देखने की सोच रहे हैं, तो अपने रिस्क पर देखिएगा. क्योंकि फ़िल्म में कई सीन ऐसे हैं जब आपको लगेगा कि आप घायल होने वाले हैं. कमज़ोर दिल वालों को हार्ट अटैक भी आ सकता है.

3. सलमान खान का स्टंट

Source : newscrispy

फ़िल्म के एक सीन में भाईजान अपने दुशमनों से लड़ते हुए उन पर गोलियों की बौछार करते हैं, लेकिन ये क्या वो एक हाथ से बंदूक और दूसरे हाथ से गाड़ी घुमा रहे हैं, वाकई ऐसा होता है क्या?

4. ब्रांड प्लेसमेंट

Source : Sosaree

ये तो सभी जानते हैं कि फ़िल्म में कई कंपनी अपने प्रोडक्ट्स के ऐड करती हैं, लेकिन रेस 3 में बाबा इलाइची और डेल लैपटॉप का ऐसा ऐड दिखाया कि लगा ही नहीं, ऐड दिखाया भी गया है.

5. डेज़ी शाह की आंख छोटी हो जाती है

Source : Republicworld

आर बिज़नेस इज़ आर बिज़नेस, नन ऑफ़ योर बिज़नेस... ये डायलॉग बोलते समय डेज़ी की एक आंख छोटी हो जाती है.

6. अनिल कपूर की गोली से जल जाता है आदमी

Source : Newsdogapp

फ़िल्म के एक दृश्य में अनिल कपूर एक बंदे पर गोली चलाते हैं, गोली लगते ही वो बंदा आग से जल उठता है. सच में ऐसा होता है क्या?

सच में अगर आप भाई के सच्चे फ़ैन हैं, तो ही ये फ़िल्म देख सकते हैं वरना हॉल से बाहर आने के बाद माथा पीटने के अलावा कोई ऑप्शन नहीं बचेगा आपके पास.