कितना आसान होता है शादी होने के तुरंत बाद लड़की से ये कहना कि अब जल्दी से नाती-पोतों का मुंह दिखा दो, तो हम गंगा नहा आएं... पर कभी सोचा है कि बच्चा पैदा करना और उसकी परवरिश करना कितना बड़ा काम होता है. सच्चाई तो यही है कि एक नन्ही सी जान को दुनिया में लाने से पहले मानसिक और शारीरिक रूप से तैयार होना ज़रूरी है. वहीं एक सच्चाई ये भी है कि एक दम्पति बच्चे की प्लानिंग करता है और बच्चा पैदा होने तक वो उसके स्वागत की तरह-तरह की तैयारी करने लगता है. जब एक नन्ही सी जान इनके जीवन में आती है उसके बाद ज़िम्मेदारियां तो बढ़ती ही हैं साथ ही कई तरह की मशक्कत भी शुरू हो जाती है. वैसे भी जब तक बच्चा 3-4 साल तक का नहीं हो जाता तब तक पेरेंट्स की ज़िन्दगी किसी Gym की तरह ही होती है. सोते-जागते हर समय उनकी एक्सरसाइज़ ही चलती रहती है.

मेरी इस बात से हर पेरेंट्स सहमत होंगे, ख़ासतौर पर मायें. ऐसी ही एक मां से हम आज आपको मिलवाने जा रहे हैं. इस मां ने बेटा पैदा होने के बाद अपनी मेटरनिटी लीव्स के दौरान जो जो महसूस किया, फिर चाहे वो ख़ुशी हो, झुंझलाहट हो, बच्चे के साथ की गई दिनभर की मेहनत हर पल को उन्होंने स्कैचिंग करके बयां किया है.

वो कहती हैं कि 'मैंने अपने पहले बेटे के जन्म के बाद ही छुट्टियों के दौरान ही My Tired Mommy सीरीज़ के लिए इलस्ट्रेशंस बनाना शुरू कर दिया था. मैटरनिटी लीव के दौरान मैंने मां बनने के इस अनमोल एहसास को महसूस किया और अपने अनुभवों जैसे संघर्ष, झुंझलाहट, बेवकूफ़ियों और मन में तरह-तरह की शैतानियों का आना जैसे कई मनो-भावों और परिस्थितियों को व्यक्त करने के लिए मैंने इलस्ट्रेशंस का ये रास्ता चुना.'

जब मैंने इन सभी इलस्ट्रेशंस को अपने दोस्तों के साथ फ़ेसबुक पर शेयर किया, लोगों का सकारात्मक रिस्पॉन्स मिला। कई सारी माओं ने मेरे साथ सहमति जताई कि उन्होंने भी इसी तरह की सिचुएशंस का सामना किया है, जब वो मां बनी थीं. इसलिए मैंने इसे एक कॉमिक स्ट्रिप में बदलने और नियमित रूप से सोशल मीडिया पर शेयर करने का निर्णय लिया।

अपने इन इलस्ट्रेशंस में मैंने उन संवेदनशील मुद्दों को, जिनको इस समाज में एक टैबू के रूप में पेश किया जाता है, जैसे ब्रेस्टफ़ीडिंग, करियर, पार्टनर के साथ रिलेशनशिप, बढ़ते परिवार को संभालने के साथ-साथ बच्चे को अच्छे संस्कार देने की सलाह, और यहां तक कि बच्चे का ध्यान रखने के चक्कर में पूरी नींद न लेना और तरह-तरह की बीमारियों का शिकार होना आदि को भी दिखाया है. इनको आप Instagram पर फ़ॉलो कर सकते हैं.

तो चलिए अब नज़र डालते हैं एक नई-नई मां बनने वाली मां की बच्चा आने के बाद की ज़िन्दगी पर:

1. जब बच्चा नहीं था, और जब बच्चा हो गया.

2. ऐसा लगता है मानों ज़िन्दगी बस यहीं तक सीमित हो गई है.

3. कहीं अकेले जाना तो दूर, जो मिलता है वो भी बच्चे की ही बात करता है. घर-घर की यही कहानी होती है.

4. घर पर भी वही हाल, और छुट्टियों में भी डिट्टो.

5. मुझे नींद न आये, मुझे चैन न आये, क्योंकि कहीं ये बच्चा न जाग जाए.

6. कभी-कभी पापाओं को भी अपना पितृत्व दिखाना चाहिए, बच्चे को अच्छा लगेगा.

7. कभी भी कहीं भी, पीछा नहीं छोड़ेगा ये.

8. बस कुछ दिन और हैं छुट्टियां ख़त्म होने में.

हम आशा करते हैं कि आपको ये सभी इलस्ट्रेशंस मज़ेदार तो लगे ही होंगे साथ ही महिलाओं को इनमें कहीं न कहीं ख़ुद की छवि दिखाई दी होगी. अगर आपको ये पसंद आये हैं, तो कमेंट करके हमें बताएं.

Source: boredpanda