मेडिकल स्टोर पर जाकर कॉन्ट्रसेप्टिव्स लेने में झिझक महसूस करने वाले लोगों के लिए एम.एस. यूनिवर्सिटी के छात्र खुशख़बरी लेकर आए हैं. यूनिवर्सिटी से मार्केटिंग मैनेजमेंट में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा कर रहे अर्जुन जैन अपने इस बिज़नेस आइडिया को Contraceptive on Wheels स्टार्टअप के रूप में 14 फरवरी से हार्डकोर बिज़नेस का रूप दे रहे हैं. इसके जरिए अर्जुन लोगों को घर बैठे कॉन्ट्रसेप्टिव उपलब्ध कराएंगे.

source: mamanatural

अर्जुन के साथ हैं उनके जूनियर आदित्य बोरा, जो एम.एस.यू. से बीबीए कर रहे हैं. अर्जुन जहां स्टार्टअप का मैनेजमेंट देखेंगे, वहीं प्रॉडक्ट्स की होम डिलिवरी का काम आदित्य के जिम्मे है. Contraceptive on Wheels कॉन्सेप्ट के दौरान पहले महीने एचआईवी एड्स की रोकथाम और LGBT पर काम किया जाएगा.

source: assets

अपने बिज़नेस कॉन्सेप्ट के बारे में जैन कहते हैं, 'हम में से अधिकतर लोगों को मेडिकल स्टोर पर जाकर कॉन्ट्रसेप्टिव खरीदने में झिझक होती है. ख़ासतौर पर महिलाएं, इस मामले में बहुत ही असहज महसूस करती हैं. बिज़नेस की शुरुआत में हम फ्री डिलिवरी सर्विस देंगे और कुछ समय बाद नॉर्मल चार्ज लिया जाएगा. मैंने अपना प्रॉजेक्ट लक्ष्य ट्रस्ट के फाउंडर और राजपीपला के राजकुमार मानवेन्द्र सिंह गोहिल के साथ डिस्कस किया. उन्हें यह बहुत पसंद आया. लक्ष्य ट्रस्ट के अन्तर्गत ही हम एक महीना एचआईवी एड्स की रोकथाम और LGBT के प्रति जागरूकता बढ़ाने पर काम करेंगे.'

source: ell.h

प्रॉडक्ट के लिए ऑडर के तरीकों के बारे में जैन कहते हैं 'जिन कस्टमर्स को भी ऑर्डर देना है, वह हमारे फेसबुक पेज पर मैसेज कर सकते हैं. SMS और Whatsapp के जरिए किसी भी समय ऑर्डर प्लेस किया जा सकता है.' सर्विस के दौरान यंग सर्विस प्रोवाइडर ग्राहक की पहचान सीक्रेट रखने का भरोसा भी दे रहे हैं. सर्विस के बदले कैश ऑन डिलिवरी और ई-वॉलेट पेमेंट की सुविधा दी जा रही है. जैन कहते हैं, 'शुरुआत में हमारा मकसद लोगों के बीच सेफ सेक्स के प्रति जागरूकता लाना है, इसलिए पैसा कमाने पर अभी हमारा फोकस नहीं है.'

source: TOI