लड़कियों के पहनावे को लेकर नेताओं से लेकर धर्मगुरु तक अकसर दकियानूसी बयान देते रहते हैं. एक बार फिर लड़कियों के पहनावे को लेकर लोगों की पिछड़ी हुई सोच दिखाने वाली शर्मनाक घटना सामने आई है. घटना दिल्ली से सटे गाज़ियाबाद की है. मुरादनगर में चार लड़कियों को बंधकर इसलिए पीटा गया क्‍योंकि वो अपनी सेहली के पिता की मौत के बाद उससे मिलने जींस और स्कर्ट पहनकर चली गई थीं.

करीब एक घंटे तक लड़कियों को कमरे में बंद कर के पीटा गया. जब इस शर्मनाक करतूत के बारे में पुलिस को सूचना मिली, तो पुलिस फौरन मौके पर पहुंची और लड़कियों को ग्रामीणों के चंगुल से छुड़वा कर उनके परिजनों के पास पहुंचा दिया.

Source: Deccanchronicle

बीते शुक्रवार को मुरादनगर के पुर्सी गांव के रहने वाले पवन (42) की संदिग्‍ध हालातों में मौत हो गई थी. कुछ साल पहले ही पवन की पत्‍नी की भी मौत हो चुकी है. मां-बाप की मौत के बाद, मुस्‍कान अकेली और दुखी थी. मुस्‍कान के साथ पढ़ने वाली उसकी दोस्‍त रश्मि और नीतू को जब उसके पिता की मौत की ख़बर मिली, तो वो अपनी दो अन्‍य सहेलियों के साथ उसके घर पहुंच गईं.

इनमें से एक युवती ने स्‍कर्ट और तीन ने जींस-टॉप पहना था. इसी दौरान कुछ पड़ोसी मुस्‍कान के घर आए और उसकी सहेलियों के पहनावे का विरोध करने लगे. उन्होंने चारों को घर से निकल जाने के लिए कहा. युवतियां इसके लिए तैयार नहीं हुईं, तो ग्रामीणों ने उनको कमरे में बंद कर मारना शुरू कर दिया.

पुलिस ने बताया कि युवतियों ने कार्रवाई करने से इंकार किया है. शिकायत किये जाने के बाद ही इस मामले में कार्रवाई की जाएगी. घटना के बाद से चारों लड़कियां डरी हुई हैं.

जागरूकता फैलाने के तमाम प्रयासों के बाद भी कुछ लोग पिछड़ी मानसिकता नहीं छोड़ पा रहे हैं. यही कारण है कि लड़कियों के साथ इस तरह की बदसलूकी की ख़बरें सुनने में आती रहती हैं.

Source: Jagran