जहां हम लड़कियों को सिखा रहे हैं कि चुप-चाप सहने के बजाय गलत के खिलाफ आवाज़ उठाएं, वहीं एक लड़की को छेड़-छाड़ का विरोध करने पर दिन-दहाड़े ज़िन्दा जला दिया गया.

घटना ओडिशा के भवानीपटना की है, 17 वर्षीय श्याम साहू और 19 वर्षीय बुलू ने एक 15 वर्षीय लड़की के साथ छेड़-छाड़ की. यही नहीं, उसे अश्लील इशारे भी किये. उन्हें लगा होगा कि लड़की चुप-चाप सह जाएगी, लेकिन लड़की ने अपने घर में इस मामले के बारे में अपने घरवालों से शिकायत की.

लड़की के घरवालों ने लड़कों को वॉर्निंग दी कि ऐसा न करें. चौंकाने वाली बात ये है कि लड़कों के घरवाले इस सब में अपने बेटों का साथ देने लगे और उनसे लड़की और उसके घरवालों को पीटने को कहा.

दोनों ने लड़की के घर में घुस कर उसे ज़िन्दा जला दिया, पड़ोसी जब तक लड़की की चीखें सुन कर उसे बचाने पहुंचे, तब तक वो 90 प्रतिशत जल चुकी थी. उसे गंभीर हालत में 11 जनवरी को अस्पताल में भर्ती कराया गया. 13 जनवरी को पुलिस ने दोनों लड़कों और उनके घरवालों को गिरफ्तार कर लिया.

Source: Beingindian