मुंबई से एक शर्मनाक घटना सामने आई है. यहां एक महिला ने एक बच्ची को सिर्फ़ इसलिए पीट दिया कि उसने टॉयलेट में ज़्यादा समय लगाया था. यही नहीं, उसने उस छोटी सी बच्ची को उसकी ही उल्टी पीने को भी मजबूर किया.

Source: mid-day

घटना मुंबई की मनखुर्द इलाक़े के एक Child Shelter Home की है, जहां एक बच्ची ने टॉयलेट में थोड़ी देर लगा दी. वहां काम करने वाली महिला, सुनीता पवार(40 साल), जब टॉयलेट में देखने गई, तो बच्ची नल से खेल रही थी. इस पर उसे इतना ग़ुस्सा आया कि वो उस 8 साल की मासूम को बेरहमी से पीटने लगी. रोती हुई बच्ची को जब खांसी के साथ उल्टी हुई, तो उस बेरहम महिला ने बच्ची को उसकी उल्टी पीने को मजबूर किया. बच्ची ने विरोध किया तो, उसने उसे ज़बरदस्ती उल्टी पिलाई.

ये घटना तब सामने आई, जब अगली सुबह स्कूल में बच्ची गुमसुम और उदास थी. कारण पूछने पर बच्ची की सहेली ने पूरी घटना टीचर को बताई. टीचर ने तुरंत Shelter के प्रबंधक को सूचित किया. प्रबंधक की सूचना पर Trombey पुलिस ने घटना की FIR दर्ज कर ली. पवार पर Juvenile Justice Act के Section 75 के तहत मुक़दमा दर्ज हुआ है. पुलिस ने Shelter की दूसरी लड़कियों का भी बयान ले लिया है.

बच्ची मुंबई के ही बांद्रा इलाक़े की है, जो लगभग एक महीने पहले अपने घर से ग़ायब हो गई थी. पुलिस को अभी तक उसके मां- बाप का पता नहीं चला था इसलिए उन्होंने 1 मई को बच्ची को Child Shelter Home में भेज दिया था, जहां उसके साथ ये घटना हुई. पुलिस बच्ची के परिवार का पता लगा रही है ताकि बच्ची को उन तक पहुंचाया जा सके.

Source: mid-day

फ़ीचर इमेज प्रतीकात्मक है. istockphoto