जल्दी और ज़्यादा पैसे कमाने के चक्कर में इंसान अकसर धोखा खा जाता है. बाज़ार में ऐसे कई फ़्रॉड बैठे हैं, जो पैसे दिखा कर आपके पैसे लूटने की कला में माहिर हैं. इनका काम आपको सपने बेचना है, ये उन ख़्वाहिशों को पूरा करने का दावा करते हैं, जिनके आप सिर्फ़ सपने देखते हैं. ऐसी की एक फ़्रॉड कंपनी QNet का कुछ वक़्त पहले भांडाफोड़ हुआ था.

Source- Impactradius

QNet हॉगकॉन्ग की फ़्रॉड कंपनी है, जो बाइनरी पिरामिड बिज़नेस मॉडल पर काम करती है. आसान भाषा में ये चेन मार्केटिंग सिस्टम है, जिसमें आपको कुछ लोगों को QNet का सदस्य बनवाना होता है, बदले में आपको कमिशन मिलता है. इसके अलावा आपको इनके प्रोडक्ट्स खरीदने होते हैं.

ये कंपनी घड़ियां, हॉलिडे पैकेज, हर्बल प्रोडक्ट्स आदि बेचने का सिर्फ़ दावा करती है, जबकि ऐसे कोई प्रोडक्ट्स इनके पास हैं ही नहीं. इनका तरीका बेहद आसान है, ये मॉल में या किसी कॉफ़ी शॉप में लोगों से मिलते हैं और अपनी लाइफ़ स्टाईल के बारे में ज़िक्र करते हैं, जो इस कंपनी की वजह से उन्हें मिला. वो फ़ॉरेन ट्रिप की बात करेंगे, महंगी कार और घर का लालच देंगे. ये बताएंगे कि आप भी ये सब पा सकते हैं, बस दिन के कुछ घंटे और कुछ पैसे इसमें लगा कर. ये निवेशकों से दावा करते हैं कि तीन साल में उनके पैसे दोगुने हो जाएंगे.

अब तक इस मामले में 47 लोग गिरफ़्तार हो चुके हैं. बीते 22 मार्च को इस फ़्रॉड की एक और ज़रूरी कड़ी अदिति मित्रा को मुम्बई पुलिस की आर्थिक अपराध विंग ने छत्रपति शिवाजी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से गिरफ़्तार किया. अदिति दुबई भागने के फ़िराक में थी. उसके पास से दो हैंड बैग और 6 सूटकेस बरामद हुए. ये QNet के साथ स्वतंत्र प्रतिनिधि के तौर पर काम करती थी और इंवेस्टर लाने के लिए भारी कमीशन लेती थी. इसके कई बैंक अकाउंट हैं, तलाशी के वक़्त इसके पास 25 लाख रुपये भी मिले.

इससे पहले इस फ़्रॉड में बिलियर्ड्स चैंपियन और पद्म भूषण सम्मानित माइकल फ़ेरेरा भी गिरफ़्तार हो चुके हैं. माइकल पर एक हज़ार कऱोड़ के फ़्रॉड का इल्ज़ाम था. अब तक ये कंपनी पांच लाख लोगों को अपने चुंगल में फंसा चुकी है.

Article Source- RVCJ