9 साल की एक लड़की विचित्र बीमारी के कारण हर वक़्त दर्द में रहने को मजबूर है. इस बीमारी की वजह से Afhseen Qumbar का सिर 90 डिग्री के एंगल पर घूमा रहता है. इस बीमारी के चलते वो न तो ठीक से बैठ पाती है और न ही चल पाती है.

पाकिस्तान के Mithi की ये लड़की खाने और टॉयलेट जाने जैसे कामों के लिए भी मदद कि मोहताज हो गयी है. उसके पिता, 55 वर्षीय Allah Jurio और मां 50 वर्षीय Jameelan, बताते हैं कि बच्ची के इलाज के लिए वो कई डॉक्टर्स से मिले, उन्हें बताया गया कि Mithi में इस बीमारी का इलाज नहीं हो सकता. उनके लिए हर वक़्त अपनी बेटी को दर्द में देखना बेहद मुश्किल हो रहा है.

उसे इलाज के लिए कराची के पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल सेंटर ले जाने को कहा गया है, लेकिन उनके पास इतने पैसे नहीं हैं कि वहां ले जाकर लड़की का इलाज करा सकें. जब Afsheen का जन्म हुआ था, तब वो अपने बाकी 6 बहन-भाइयों कि तरह सामान्य थी. आठ महीने बाद वो गिर गयी और उसकी गर्दन में चोट लग गयी.

उसकी मां बताती हैं कि उस वक़्त पैसों की कमी के कारण वो उसे अस्पताल नहीं ले जा सके और किसी ओझा के पास ही उसका इलाज कराने लगे. जैसे-जैसे वो बड़ी होती गयी, उसकी हालत और बिगड़ती गयी. अब वो बस एक कोने में बैठे रहने को मजबूर है. आम बच्चों कि तरह वो खेल नहीं सकती.

लड़की के माता-पिता खेती कर के गुज़ारा करते हैं. परिवार का सबसे बड़ा बेटा, 25 वर्षीय मोहम्मद याक़ूब एक दुकान पर काम कर के 15,000 रुपये कमा पाता है.

Afsheen के माता-पिता बताते हैं कि वो नौ साल की हो गयी है पर आज भी उसे किसी शिशु कि तरह यहां-वहां उठा के ले जाना पड़ता है. जब वो और बड़ी हो जाएगी तो उसे कैसे कहीं ले जा पाएंगे. वो उसे पढ़ाना चाहते हैं.

इस बीमारी के कारण उसे समाज भी अजीब निगाहों से देखता है. बच्चे उससे डरते हैं और आस-पास की महिलाएं इस बीमारी को उसके बुरे कर्मों का नतीजा बताती हैं. कुछ लोग तो उसका मज़ाक तक बनाने से पीछे नहीं हटते.

Source: Metro