लड़कियां चाहे शहर की हों या फिर गांव की, घर में अपनी चलाना, ज़िद करना, बात-बात पर भाई-बहनों से लड़ जाना, उनकी आदत में शामिल होता है. हर लड़की इन मामलों में एक जैसी होती है. वो जैसी घर पर दिखती है, वैसी दोस्तों के साथ भी दिखेगी, इसकी उम्मीद ज़रा कम होती है. वो शैतानियां और बदमाशियां, जो वो पापा-मम्मी के लिहाज़ में नहीं करती, दोस्तों के सामने दिल खोलकर करती है. वो घर से लेकर बाहर तक पेरेंट्स का ध्यान रखकर ही कोई कदम उठाती है. लेकिन दोस्तों के साथ इनकी अलग ही दुनिया होती है. इसमें हर तरह के नमूने शामिल होते हैं. कुछ खिसके, कुछ उलटे, कुछ शरारती तो कुछ शराफ़त की आफत. यानि आप दोस्तों के बीच वो सब कुछ भी सीखते हो, जो घर पर नहीं सिखाया जाता. आज हम आपको लड़कियों के बारे में वो बातें बताने जा रहे हैं, जो वो अपने दोस्तों से ही सीखती हैं.

1. शेयर करना

source: ht

जब लड़कियां घर से निकलकर दोस्तों के बीच पहुंचती हैं, या फिर हॉस्टल में रहती हैं, तो वो जो सबसे ज़रूरी चीज़ सीखती हैं, वो है शेयर करना. रूम से लेकर आलमारी और बाथरूम तक. कई बार तो प्लेट्स और नाश्ता भी शेयर करती हैं.

2. झूठ बोलकर बहाना मारना

source: unreal

क्लास बंक करनी हो, या हॉस्टल में लेट नाइट पहुंचना हो, तमाम बहाने बनाने आते हैं लड़कियों को. ये बहाने की लिस्ट उन्हें दोस्तों से ही मिलती है. ज़ाहिर है कि पेरेंट्स तो ये नहीं सिखाएंगे.

3.मस्तीखोरी

source: reachcambridge

गर्ल्स गली-गली और सड़कों पर मस्ती करते हुए बेफिक्र घूमना भी दोस्तों से ही सीखती हैं. घर पर तो हर चीज़ तमीज़ से करनी ही होती है, सब कुछ टाइम पर करना होता है. दोस्तों का साथ मिलते ही वे मस्तीखोर हो जाती हैं.

4.बॉयफ्रेंड बनाना

source: mac

सबसे पहले कोई न कोई दोस्त ही बताती है कि बॉयफ्रेंड कैसे बनाया जाता है, या फिर उसका बॉयफ्रेंड बन गया है. फिर कई सारी फ्रेंड्स उसे बॉयफ्रेंड होने के फायदे गिनाती हैं. ज़ाहिर है लड़की का दिल भी चाहेगा कि कोई स्पेशल हो.

5. कॉन्फिडेंट होना

source: playbuzz

किसी भी लड़की को दोस्तों का साथ ही ज्यादा कॉन्फिडेंट बना देता है. किसी ने कुछ कहा नहीं कि झट से जवाब दे देती हैं. किसी की भी गलती सहती नहीं हैं. वे बेझिझक लोगों को जवाब देती हैं और अपने हक़ के लिए लड़ती हैं, तो ये ताक़त उनमें दोस्तों से ही आती है.

6. लव लेटर लिखना

source: surfnetkids

लड़कियां लव लेटर भी तो दोस्तों से ही लिखना सीखती हैं. कई बार तो फ्रेंड्स उनका लेटर लिख भी देती हैं. हॉस्टल में तो ऐसा होना बेहद कॉमन है.

7. मेकअप करना

source: favim

कोई भी लड़की हो, उसे मेकअप का चस्का दोस्तों को देखकर ही लगता है. हॉस्टल में लड़कियों के नए-नए अंदाज़ और कॉलेज में उनका लेटेस्ट मेकअप देखकर वो भी इसे ट्राई करती हैं.

8. गाली देना

source: prevention

वो लड़की जो कभी किसी के मुंह से गाली सुनते ही आंखें निकाल लेती थी, दोस्तों के साथ रहकर गाली देना भी सीख जाती है. उसके मुंह से छोटी-मोटी गाली तो कभी भी निकल आती है. वैसे सभी ऐसा नहीं करतीं.

9. झगड़ा करना

source: financialexpress

सीधी-सादी लड़की कभी रिक्शे वाले से, कभी सब्जी वाले से तो कभी कैब वाले से लड़ लेती है, ऐसा करना दोस्तों की कृपा से ही अक्सर संभव होता है. एकदम से वो लोगों से दो-दो हाथ करने को तैयार हो जाती है, तो ये ताकत दोस्तों से ही मिलती है.

10. डेटिंग टिप्स

source: post

लड़की पहली बार किसी के साथ डेट पर जाती है, तो उससे ज्यादा एक्साइटेड तो उसकी फ्रेंड्स होती हैं. कैसे जाना है, क्या पहनना है, कैसा मेकअप करना है, क्या गिफ्ट करना है, कैसा बिहेव करना है... आदि, आदि, सब कुछ दोस्तों ने सिखाया हुआ होता है.

11. नाइट आउट करना

source: portland

एक लड़की नाइट आउट करने से पहले ज़ाहिर है सौ बार सोचती है. लेकिन दोस्त जब हिम्मत देते हैं तो वो इसके लिए तैयार हो जाती है. फिर चाहे जितनी भी दलीलें देनी पड़ें, वो ये कर दिखाती है.

12. बारगेनिंग करना

source: shadimagic

लड़कियों का फेवरेट काम है शॉपिंग करना और ज़्यादा से ज़्यादा बारगेनिंग करके कुछ पैसे बचा लेना. अरे यार 4-5 बार भी बारगेनिंग ठीक से कर ली, तो एक टॉप खरीदने के पैसे तो हाथ में आ ही जाएंगे. ये बढ़िया वाला काम भी उसे उसकी फ्रेंड्स ही सिखाती हैं.

इसलिए तो कहा जाता है कि ज़िन्दगी में हर फ्रेंड ख़ास होता है और जिसके पास ये नहीं होते, उनका जीवन उदास होता है. मानो न मानो, शरारतों के साथ ही ज़िन्दगी जीने के तरीके भी फ्रेंड्स ही सिखाते हैं.

Feature image source: rentwala