'देखो वो आ गया'

पर कौन?

अरे अपने गोल्डन बाबा वापस आ गए हैं और इस बार उन्होंने सोने के 20 किलोग्राम वज़न के गहने पहने हुए हैं, जिनकी कीमत लगभग 6 करोड़ रुपये है. जूना अखाड़े के महंत गोल्डन बाबा कांवड़ यात्रा पर रवाना हो चुके हैं. बाबा उर्फ़ सुधीर मक्कड़ की ये 25वीं कंवड़ यात्रा है. हर यात्रा के साथ उनके सोने के आभूषणों का वज़न बढ़ जाता है.

रिपोर्ट के अनुसार, 2016 में उन्होंने करीब 12 किलोग्राम सोने के गहने पहने थे. वहीं पिछले साल उनके आभूषणों का वज़न 14.5 किलोग्राम था. इनमें 21 चेन, 21 भगवान के लॉकेट और सोने की जेकैट शामिल थी, जिसे वो कभी-कभी SUV से सफ़र करने के दौरान पहनते थे. उनकी नई चेन पहले से 2 किलोग्राम अधिक भारी है, जिसमें भगवान शिव का लॉकेट भी है.

Source : patrika

पिछले साल हिंदुस्तान को इंटरव्यू देते हुए बाबा ने कहा था कि 2018 में वो अपनी यात्रा की सिल्वर जुबली पूरी कर लेंगे, जो कि उनकी आखिरी यात्रा भी होगी. सोने से लदा होने के साथ-साथ बाबा 27 लाख रुपये की रोलेक्स घड़ी भी पहनते हैं और उनके पास बीएमडब्लू, तीन फॉर्च्यूनर्स, दो ऑडी और दो इनोवा गाड़ियां भी हैं. वहीं हरिद्वार यात्रा पर जाते समय वो Hummer, Jaguar और Land Rover जैसी कारें किराये पर लेते हैं.

बाबा का कहना है कि मरने तक वो सारा सोना अपने साथ रखेंगे, वहीं मरने के बाद ये सब उनके चहेते शिष्यों के पास होगा.

आध्यात्मिकता में जाने से पहले वो गांधी नगर में कपड़े का व्यवसाय करते थे. साथ ही गाजियाबाद के इंदिरापुरम में उनका एक आलीशान फ़्लैट भी है.

उन्होंने ये भी बताया कि 1972-73 के आस-पास 10 ग्राम सोने की कीमत कुछ 200 रुपये हुआ करती थी, इसी दौरान मैंने सोना पहनना शुरू किया था. तब मेरे पास महज़ 40 ग्राम सोना था, इसके बाद भगवान शिव की कृपा से इसकी मात्रा बढ़ती गई. बाबा की सारी धन-दौलत भगवान शिव को समर्पित है.

बाबा आम जनता के बीच काफ़ी लोकप्रिय हैं. यात्रा के दौरान बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी उनके साथ फ़ोटो लेने के लिए घंटों इंतज़ार करते हैं.

Source : HT