पुलिस का काम क़ानून व्यवस्था को बनाये रखना और अपराध को ख़त्म कर ऐसे वातावरण को बनाना है, जहां हर व्यक्ति खुद को सुरक्षित महसूस करे. पुलिस ज्वाइन करने वाले अधिकारियों को इसकी शपथ भी दिलाई जाती है कि वो दायरे में रह कर समाज में सुधार लाने को अग्रसर रहे, पर महाराष्ट्र के खडकपाडा पुलिस स्टेशन के अधिकारी शायद इस बात को भूल गए.

ख़बरों के मुताबिक, कल्याण के रहने वाले मंगेश देसले अपने पासपोर्ट वेरिफिकेशन के लिए पुलिस स्टेशन पहुंचे थे, पर वहां बैठे पुलिस अधिकारियों ने उन्हें ये कह कर थाने से निकल जाने को कहा कि उनके कपड़े सभ्य नहीं हैं. मंगेश ने इस वाकये का वीडियो बना डाला और अपने फ़ेसबुक अकाउंट पर शेयर किया.

मंगेश के इस वीडियो को सोशल मीडिया पर ख़ूब शेयर किया जा रहा है. इसके साथ ही लोगों की अलग-अलग प्रतिक्रिया भी देखने को मिल रही है. कुछ लोगों का कहना है कि मंगेश को शॉर्ट्स पहन कर थाने में नहीं जाना चाहिए, जबकि कुछ लोग मंगेश के समर्थन में अपनी बात रख रहे हैं.

इस विषय पर बात करते हुए एक सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर बाला साहेब कदम ने कहा, 'हमारे अधिकारियों ने मंगेश को केवल पूरे कपड़े पहन कर पुलिस स्टेशन आने को कहा था, क्योंकि यहां कई महिलाएं भी आती हैं, जिनके सामने शॉर्ट्स पहनना किसी तरह की शिष्टता नहीं है.'

Source: topyaps