तीन दिन पहले सोशल मीडिया पर छोटी सी बच्ची का वीडियो वायरल हो रहा था, जिसमें बच्चे की मां उसको डांट-डपट कर गिनती सिखा रही थी और वो बच्ची रो रही थी. वीडियो में साफ़ दिख रहा था कि वो बच्ची रो-रो कर गिनती सुना रही था और बार-बार अपनी मां को बोल रही थी कि उसकी आंखों और सिर में दर्द हो रहा है, लेकिन मां ने उसकी एक न सुनी.

इस वीडियो को सबसे पहले विराट कोहली ने अपने Instagram अकाउंट पर पोस्ट किया था. उसके बाद शिखर धवन, युवराज सिंह और रॉबिन उथप्पा ने भी ये वीडियो अपने-अपने सोशल मीडिया एकाउंट्स पर शेयर करके सभी पेरेंट्स से अपने बच्चों को इस तरह से प्रताड़ित न करने की अपील भी की थी.

इससे पहले इस वीडियो और उसमें दिखाए गए बच्ची के बारे में हम आपको बताएं, आप एक बार फिर देख लीजिये ये वीडियो:

क्यों याद तो आ ही गई होगी आपको ये बच्ची? इस बच्ची का नाम हया है और ये अभी केवल तीन साल की है. अब आपको बता दें कि हया बॉलीवुड गायक और कम्पोज़र जोड़ी तोशी और शारिब साबरी की भतीजी है.

Source: wikimedia

यहां हम आपको कुछ क्रिकटर्स के Instagram पोस्ट दिखाने जा रहे हैं, जिनमें उन्होंने कहा है कि बच्चों को पढ़ाने के दौरान पेरेंट्स को धैर्य और प्यार से काम लेना चाहिए:

Hindustan Times की खबर के अनुसार, जब गायक तोशी के इस बारे में बात की गई तो उन्होंने कहा,

'ये वीडियो केवल उनके फ़ैमिली के WhatsApp group के लिए बनाया गया था. विराट कोहली और शिखर धवन हमारे बारे में कुछ नहीं जानते हैं. हमारे बच्चे के बारे में हमको पता है कि हमारा बच्चा कैसा है! उसका नेचर वैसा है... अगले ही पल वो खेलने चली जाती है. अगर आप उसको छोड़ दो तो वो कहेगी कि मैं मज़ाक कर रही थी. उसके इस नेचर की वजह से छोड़ देंगे तो वो पढ़ाई भी नहीं कर पाएगी.'

हमारी फ़ैमिली को इसका अंदाजा भी नहीं था कि वो वीडियो वायरल हो जाएगा. 'वो वीडियो एक मां का वीडियो है, जो उसने अपने भाई और पति को ये दिखाने के लिया बनाया था कि उनकी बच्ची कितनी ज़िद्दी हो गई है.'

इसके साथ ही तोशी ने कहा, 'बच्चे के लिए बहुत ज़रूरी है कि वो पढ़े और सीखे, और बच्चे तो पढ़ाई के नाम पर नखरे करते ही है, लेकिन जब सवाल पढ़ाई का हो तो उनके नखरों को अनदेखा करना ज़रूरी हो जाता है. अगर ऐसा नहीं किया गया तो जो होमवर्क उसको नर्सरी में मिला है, गिनती याद करने का वो कभी पूरा ही नहीं कर पाएगी. वो जो रोना होता है, वो उस पल के लिए था ताकि उसकी मां उसे पढ़ाये नहीं, बल्कि खेलने के लिए छोड़ दे. वो तो छोटा बच्चा है 2-3 साल का. ये कोई बड़ी बात नहीं है. हर घर में बच्चों की अलग ज़िद होती है, अलग-अलग तरह के बच्चे होते हैं. हया बहुत ज़्यादा ज़िद्दी है, लेकिन हमारी लाडली भी है.'

इसके साथ ही अब देखिये हया का ये वीडियो जिसमें वो मस्ती कर रही है, खेल रही है. इस वीडियो को शारिब ने अपने Instagram पर पोस्ट किया है:

Independance day wish from my jaanam baby JAI HIND

A post shared by Sharib Sabri (@sharibsabri) on

जब तोशी से हया की मां के रिएक्शन के बारे में पूछा गया, तो तोशी ने कहा, 'जब वीडियो देखकर बाकी लोगों को बुरा लग रहा है, तो वो तो मां है उसको भी तो खराब लग रहा होगा.'

इसके साथ वो कहते हैं कि किसी को ये हक़ नहीं है कि वो केवल 1.5 मिनट का वीडियो देखकर किसी के बारे में अपनी राय बना ले. एक मां की ममता है, उसके जज नहीं कर सकते हैं. जिसने उसको 9 महीने अपनी कोख में रखा है. अब अगर बच्चे ज़िद करेंगे तो उनको पढ़ाना-लिखाना छोड़ दें क्या? बच्चों को पालना आसान नहीं होता. मैं शादीशुदा हूं, मेरा भी एक बेटा है. मैं जानता हूं कि बच्चे की परवरिश करना कितना मुश्किल होता है. पेरेंट्स को डबल ड्यूटी करनी पड़ती है. एक ही टाइम में बच्चे और घर दोनों को संभालना होता है.

वैसे देखा जाए तो तोशी की बात भी सही है. केवल एक वीडियो से कोई किसी को कैसे जज कर सकता है और बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए पेरेंट्स को कभी-कभी सख़्त रवैया भी अपनाना पड़ता है. लेकिन यहां मैं केवल एक बात कहना चाहती हूं कि बच्चों पर अपनी इच्छाएं कभी नहीं थोपनी चाहिए, उसकी मर्ज़ी भी जाने कि वो क्या बनाना चाहता है. और कभी भी उनकी तुलना दूसरे बच्चे से नहीं करनी चाहिए. हर बच्चे में अगल हुनर होता है बस आपको उसको पहचानने की ज़रूरत है और फिर देखिये कैसे आपका बच्चा कैसे आपका नाम रौशन करता है.

ये भी पढ़ें:

Dear Parents! इस तरह डरा कर बच्चों को पढ़ाने से ज़्यादा घातक उनके भविष्य के लिए कुछ नहीं हो सकता

Source: hindustantimes