नौकरी, परिवार, शौक़, नींद आदि के बीच से एक्सरसाइज़(Exercise) करने के लिए टाइम निकालना बहुत ही मुश्किल टास्क होता है. हमारी तरह ही लाखों लोग इस समस्या से परेशान रहते हैं कि उनके पास व्यायाम करने को टाइम ही नहीं रहता. 

इसलिए सब सोचने लगते हैं कि एक्सरसाइज़ करने का बेस्ट टाइम क्या है और कैसे उसके लिए हम समय निकाल सकते हैं. वर्क आउट करने को आतुर होते हुए भी लोग ऐसा नहीं कर पाते हैं, ऐसे लोगों के लिए हम कसरत करने का बेस्ट टाइम और उसके फ़ायदे-नुकसान सब लेकर आए हैं. ताकी अगली बार जब भी आप एक्सरसाइज़ करें तो इस पशोपेश में तो कतई न रहें.

ये भी पढ़ें:  घर पर ये 10 एक्सरसाइज़ करने से आपके पैर वैसे ही टोंड और मज़बूत हो जाएंगे, जैसी आपकी ख़्वाहिश थी

कसरत करने का सबसे अच्छा समय

evening workout
Source: hellomagazine

कसरत करने का सबसे अच्छा समय वो होता है जब भी आप उसे करने के लिए तैयार रहते हैं फिर चाहे वो दिन हो या फिर रात. अगर आपको सुबह काम पर जाने से पहले Workout करने का समय मिलता है तो ये आपके लिए बेस्ट है. मगर आप सोचते हैं कि काम के बाद शाम या रात को आप व्यायाम के लिए वक़्त निकाल पाएंगे तो ये भी आपके लिए बेस्ट है. बस शर्त इतनी है इसे निरंतर करना है ढिलाई नहीं करनी.

सुबह व्यायाम करने के फ़ायदे

ये भी पढ़ें: घर पर रहकर ये 10 एक्सरसाइज़ करना शुरू कर दो, घुटनों में कोई समस्या नहीं होगी

फ़िटनेस रूटीन बनाने में मदद करते हैं

fitness routine
Source: pinimg

जो लोग सुबह व्यायाम करते हैं वो इसे रोज़ाना करने में अधिक सफ़ल रहते हैं. उन्हें इसे रूटीन वर्क बनाने में ज़्यादा समय नहीं लगता.

नींद के चक्र में होता है सुधार

sleep cycle
Source: A2 Systems

सुबह Exercise करने से Sleep Cycle सही से काम करती है. आपका शरीर सुबह जल्दी उठने के लिए तैयार हो जाता है और आप मॉर्निंग में ज़्यादा एक्टिव होते हैं. वहीं शाम को नींद अधिक आती है, इससे आपके नींद चक्र में सुधार होता है. 

आप अधिक फ़ैट बर्न कर सकते हैं

fat
Source: ridgetimes

सुबह खाली पेट वर्कआउट करने से बॉडी से अधिक फ़ैट बर्न होता है क्योंकि तब बॉडी पहले से ही स्टोर फ़ैट को ऊर्जा के रूप में इस्तेमाल करती है. इसलिए ज़्यादा वज़न घटता है. 

Productivity बढ़ाता है

morning workout
Source: mapmyrun

कई रिसर्च में साबित हो चुका है कि सुबह एक्सरसाइज़ करने से लोगों में अधिक ऊर्जा, ध्यान केंद्रित करने की शक्ति और निर्णय लेने की क्षमता बढ़ती है. इस तरह ये आपके काम की Productivity को बढ़ाने में मदद करता है.

आपका मूड सही रहता है

workout
Source: lifehack

मॉर्निंग में Exercise करने से सारा दिन आपका मूड फ़्रेश रहता है. सुबह अपने वर्काउट को पूरा करने का गर्व आपको सारा दिन ख़ुश रहने में हेल्प करता है.

सुबह व्यायाम करने के नुकसान  

gym at night
Source: Bill Burnett's

आप कम ऊर्जावान महसूस कर सकते हैं. यही नहीं वर्कआउट करते समय भी आपको भूख लग सकती है. 


सुबह जल्दी उठने के चक्कर में आप गहरी नींद को मिस कर सकते हैं. आप वर्कआउट करने के लिए बेचैन भी हो सकते हैं.

शारीरिक क्षमता कम हो सकती है. आप पूरा दिन थके-थके महसूस कर सकते हैं. 

वॉर्मअप करने में अधिक समय लगता है क्योंकि सुबह आपके शरीर का तापमान कम होता है और दिल की धड़कन भी कम होती है.

शाम/रात को वर्कआउट करने के फ़ायदे  

फ़िज़िकल पर्फ़ॉर्मेंस बढ़ जाती है

physical performance
Source: reflexion

रिसर्च बताती हैं कि आपकी शाम को व्यायाम करने से आपकी मांसपेशियों की ताकत, फ़्लेक्सिबिलिटी और ऑउटपुट पॉवर बढ़ जाती है. साथ ही जो लोग शाम को एक्सरसाइज़ करते हैं 20% से अधिक समय तक वर्कआउट करते हैं.

मसल बनाने में मिलती है मदद 

evening workout
Source: studyfinds

जो लोग मसल बनाना चाहते हैं उन्हें शाम को वर्काउट करना चाहिए. ऐसा करने से Testosterone का उत्पादन बढ़ता है. 

तनाव को दूर करता है

stress
Source: hearstapps

शाम को वर्कआउट करने से आपका दिनभर का तनाव भी कम होता है. एक्सरसाइज़ करने से आपको नींद भी अच्छी आती है जो तनाव को दूर करने में हेल्प करती है.

बुरी आदतों से मिलता है छुटकारा

bad habits
Source: lehighcenter

शाम के समय लोग पार्टी या फिर ड्रिंक्स का प्लान बनाते हैं. इससे उनका वज़न बढ़ जाता है. इस तरह वो शाम को एक्सरसाइज़ करने के बहाने ही सही कुछ बुरी आदतों से छुटकारा पा सकते हैं.

शाम को व्यायाम करने के नुकसान

muscle
Source: musclematters

नींद में बाधा डाल सकती है शाम/रात की कसरत क्योंकि अधिक वर्कआउट करने से आपका शरीर सचेत हो जाता है और उसे सोने में वक़्त लकता है. 


शाम को वर्काउट करने समय आप ख़ुद को नियमित नहीं रख पाते. कई बार थकान या फिर घर के किसी काम की वजह से आपको ये स्किप करना होता है.

सुबह और शाम दोनों ही समय एक्सरसाइज़ करने के अपने-अपने फ़ायदे हैं. मगर आपके लिए उचित समय वो है जब भी आप 30-60 मिनट रोज़ाना कसरत के लिए निकाल पाएं. इसलिए ज़रूरी है नियमित तौर पर एक समय पर व्यायाम करना फिर चाहे सुबह हो या शाम.