Foods To Avoid Re-Heating: ऐसा अक्सर होता है कि कभी-कभी हमें चीज़ों का अंदाज़ नहीं रहता और कुछ वजहों से खाना ज़्यादा मात्रा में बन जाता है. इसके चलते हम उसे अगले दिन या कुछ समय बाद खाने के लिए फ्रिज में रख देते हैं. इसके बाद जब भी हमारा मन करता है, हम उसको दोबारा गर्म करके बड़े चाव से खाते हैं. इससे खाने की बर्बादी होने से बच जाती है. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि जिन फूड्स को आप दोबारा हीट कर रहे हैं, क्या वो आपकी बॉडी के लिए सेफ़ भी हैं? आपको ये जानकर हैरानी होगी कि ऐसे कई फ़ूड आइटम्स (Food Items) हैं, जिन्हें अगर दोबारा हीट किया जाए, तो वो अपनी न्यूट्रीशनल वैल्यू खो देते हैं.

food reheat
Source: indiatimes

आज हम आपको कुछ उन्हीं फ़ूड आइटम्स के बारे में बताएंगे, जिन्हें आपको कभी दोबारा गर्म (Foods To Avoid Re-Heating) करके नहीं खाना चाहिए.

1. आलू

एक रिपोर्ट के मुताबिक, अगर पके हुए आलू को रूम टेम्प्रेचर पर काफ़ी देर के लिए कूल करने के लिए छोड़ दिया जाए, तो इसमें बैक्टीरिया जन्म ले सकते हैं. अगर आलू फॉयल में पैक हैं, तो ये संभावनाएं और भी ज़्यादा हैं. इसको दोबारा गर्म करने से स्थिति और भी बदतर हो सकती है. इसलिए अगर आपने सर्व करने के तुरंत बाद आलू को फ्रिज़ में नहीं रखा है, तो उनको अगले दिन खाने के लिए बचाकर अपनी बॉडी को रिस्क में डालने की भूल बिल्कुल मत करिएगा.  

cooked potato
Source: sugarsaltmagic

2. मशरूम

इंडिपेंडेंट एंड द यूरोपियन फ़ूड इंफोर्मेशन काउंसिल (Independent and The European Food Information Council) के मुताबिक़, मशरूम को दोबारा गर्म करना आपकी सबसे बड़ी ग़लतियों में से एक हो सकती है. मशरूम में प्रोटीन होते हैं, जिनको अगर सही से स्टोर नहीं किया गया तो एंजाइम और बैक्टीरिया उन्हें डैमेज कर देते हैं. इनको दोबारा हीट करके खाने से आपके पेट में दर्द उठ सकता है. ये काउंसिल सलाह देती है कि अगर आपको इन्हें दोबारा गर्म करना है, तो बेहतर है कि आप इसे 158 डिग्री F पर करें. (Foods To Avoid Re-Heating)

mushroom cooked
Source: simplyrecipes

ये भी पढ़ें: Summer Vegetables Diet: गर्मियों में इन 10 सब्ज़ियों को अपनी डाइट में शामिल करो और कूल-कूल रहो

3. चिकन

कई लोग चिकन को काफ़ी दिनों तक रखा रहने देते हैं और अपने स्वाद के लिए उसे हर दिन थोड़ा-थोड़ा खाते हैं. हालांकि, ऐसा बिल्कुल भी सच नहीं है कि चिकन को दोबारा गर्म करने से आपको फ़ूड पाइज़निंग हो जाएगी. लेकिन आपको ये सुनिश्चित करना पड़ेगा कि चिकन का हिस्सा क़रीब 175 डिग्री F तक पहुंच गया है, ताकि उसमें पनपे ख़तरनाक बैक्टीरिया मर जाएं. अगर चिकन 3 दिन पुराना हो गया है, तो उसे फेंकने में ही भलाई है. 

cooked chicken
Source: simplyrecipes

Foods To Avoid Re-Heating

4. अंडे

'संडे हो या मंडे, रोज़ खाओ अंडे' ये लाइन तो आपने हर जगह सुनी होगी. पर अंडों को किस तरह से खाना है ज़्यादातर लोगों को नहीं पता होता है. अगर आपके तले हुए अंडे की प्लेट ठंडी हो गई है, तो आप उसे तुरंत एक या दो मिनट के लिए गर्म कर सकते हैं. लेकिन अगर अंडों को बाहर रखे हुए ज़्यादा समय हो गया है, तो इन्हें गर्म करना काफ़ी ख़तरनाक हो सकता है. अंडों को ज़्यादा देर तक बाहर रखने पर इसमें उत्पन्न हुए बैक्टीरिया ख़ुद को मल्टीप्लाई कर लेते हैं, जो फ़ूड पॉइज़निंग का कारण बन सकती है. (Foods To Avoid Re-Heating)

cooked egg
Source: incredibleegg

5. पके हुए चावल

ऐसा कई बार होता है कि दोपहर के बचे हुए चावल हम कभी रात में फ्राई करके खा लेते हैं. लेकिन एक रिपोर्ट के मुताबिक़, पके हुए चावल Bacillus cereus नाम के बैक्टीरिया से संक्रमित हो सकते हैं. इनको गर्म करने से इन बैक्टीरिया को ज़रा भी फ़र्क नहीं पड़ा. वो वास्तव में बीजाणु बन जाते हैं, जो टॉक्सिक और हीट प्रतिरोधक ख़ुद को बना लेते हैं. अगर आपको पके हुए चावल दोबारा खाने हैं, तो इन्हें घंटों तक रूम टेम्प्रेचर में न रखे रहने दें.

cooked rice
Source: simplyrecipes

ये भी पढ़ें: Benefits Of Curd In Summers: दही खाने से दिल से लेकर इम्यून सिस्टम को मज़बूत करने तक मिलते हैं ये 10 फ़ायदे

6. बेबी फ़ूड

ब्रेस्ट मिल्क और बेबी फ़ूड को आपके बच्चे के लिए गर्म किया जा सकता है, लेकिन इसे माइक्रोवेव में हीट नहीं किया जाना चाहिए. माइक्रोवेव बेबी फ़ूड को असमान तरीक़े से गर्म करता है, जिस वजह से हॉट पैच बन जाते हैं. इससे आपके बेबी का सेंसिटिव मुंह और गला जल सकता है. अगर आपको इसे दोबारा गर्म करना है, तो इसे स्टोव में गर्म पानी के अंदर रख कर करें. (Foods To Avoid Re-Heating)

baby food
Source: parenting.firstcry

7. सीफ़ूड

Sea Food हमेशा फ़्रेश ही एंजॉय किया जाता है, लेकिन क्या इसे दोबारा गर्म करना सेफ़ है? इसका जवाब इस बात पर निर्भर करता है कि सीफ़ूड को किस तरह से स्टोर किया गया था. FDA के मुताबिक, फ़्रेश सीफ़ूड जिसने कुछ समय रूम टेम्प्रेचर में बिताया है, उस पर बैक्टीरिया हमला कर सकते हैं. इससे आपको खाने से जुड़ी कोई बीमारी हो सकती है. इसको गर्म करने से भी बैक्टीरिया नहीं मरते हैं. ये भी सुझाव दिया गया है कि अगर सीफ़ूड फ्रिज़ से 2 घंटे के लिए बाहर ठंडे मौसम में रखा गया है, तो बेहतर है कि आप इस फेंक दें. 

sea food
Source: vistana

8. पालक

बची हुई पालक ज़्यादातर किसी का भी फ़ेवरेट फ़ूड आइटम नहीं होता है. लेकिन इसको न खाने के पीछे एक हेल्थ से जुड़ी वजह भी है. अगर आप इसे दोबारा गर्म करते हैं, तो पालक नाइट्रेट्स और नाइट्रोसैमाइंस में तब्दील हो जाती है. कुछ नाइट्रोसामाइन कार्सिनोजेनिक होते हैं और शरीर की ऑक्सीज़न कैरी करने की क्षमता को प्रभावित कर सकते हैं. 

spinach
Source: news18

9. बुफ़े डिश

बुफ़े डिशेज़ को कई घंटों तक रूम टेम्प्रेचर पर छोड़ दिया जाता है, जिससे उसमें ख़तरनाक सूक्ष्मजीव जन्म ले लेते हैं. अगर खाना फ्रिज़ में नहीं रखा गया है, तो बैक्टीरिया उसमें तेज़ी से मल्टीप्लाई हो जाते हैं. हालांकि, कई प्रोफ़ेशनल केटरिंग कंपनीज़ और रेस्तरां बीमारियों से बचने के लिए सख्त गाइडलाइंस का पालन करते हैं. लेकिन ऑफ़िस या घर की पार्टीज़ में इन चीज़ों को ज़्यादातर अनदेखा कर दिया जाता है. अगर आप कभी भी हाउस पार्टी को होस्ट कर रहे हैं, तो फ़्रेश फ़ूड को बाहर रखे हुए फ़ूड से मिलाने की ग़लती मत कीजिएगा.

buffet dishes
Source: thebalancesmb

10. तला हुआ खाना

अलग-अलग तेल के अलग-अलग हीट सहने की क्षमता होती है. अगर आप एक तेल को उसके सेफ़ लेवल से ज़्यादा गर्म कर देंगे तो ये विषैला धुआं निकाल सकता है. वो फूड्स, जिसमें ज़्यादा तेल और मसाला होता है, उन्हें माइक्रोवेव में नहीं गर्म करना चाहिए. ऐसा करने से हाई हीट कुछ विषाक्त पदार्थ उत्पन्न कर सकती है. अगर आप इसे दोबारा गर्म करना भी चाहते हैं, तो इसे धीमी आंच पर गर्म करने की कोशिश कीजिए.  

fried food
Source: thejakartapost

इन चीज़ों का ख़ुद पालन करें और दूसरों को भी करने की सलाह दें.