खज़ानों के बारे में बचपन में आपने कई कहानियां सुनी होंगी. पर आज हम आपको कोई कहानी नहीं सुनाने जा रहे, बल्कि हम आपको बताने जा रहे हैं असली खजानों के बारे में, जिन्हें अगर कोई पा जाये तो रातों-रात अमीर हो जाये. दुनिया में ऐसे कई खज़ाने हैं और ये हैं दुनिया के वो सबसे बड़े 10 खज़ाने, जो आज भी अपने खोजे जाने का इंतज़ार कर रहे हैं.

1. नादिर शाह का खज़ाना

फारसी आक्रमणकारी नादिर शाह, 1739 में, 50,000 सैनिकों के साथ भारत आया था. उसने दिल्ली को लूट लिया था और इस नरसंहार में लगभग 30 हज़ार लोगों की मौत हुई थी. कहा जाता है कि ये इतनी बड़ी लूट थी कि खज़ाने को ले जा रहा क़ाफ़िला 150 मील लम्बा था.

लेकिन जब नादिर शाह Persia लौट रहा था, तो उसका किसी ने खून कर दिया. उसके हत्यारे Ahmad Shah ने वो खज़ाना हिन्दुकुश पर्वतों में कहीं छुपा दिया था.

नादिर शाह के खज़ाने में कई सोने के सिक्के, हीरे-जवाहरात, मोर-मुकुट (अब ईरान में है) व कोहिनूर हीरा (अब ब्रिटेन के Crown Jewels में है) था.

2. बिम्बिसार का खज़ाना

सोनभंडार गुफाएं एक बड़ी चट्टान को काट कर बनायी गयी हैं. ये बिहार के राजगिर में स्थित हैं. इन गुफ़ाओं में शंख लिपि में लिखे शिलालेख के अनुसार एक गुप्त रास्ता है, जिसके द्वारा राजा बिम्बिसार के खजाने तक पहुंचा जा सकता है. अंग्रेज़ों ने इस खज़ाने को खोजने के बहुत प्रयास किये, पर अब तक कोई इस खज़ाने तक नहीं पहुंच पाया है.

3. Mir Osman Ali का खज़ाना

Mir Osman Ali हैदराबाद के आख़िरी निज़ाम थे. Forbes Magazine ने उन्हें अब तक के सबसे अमीर लोगों की सूची में 5वां स्थान दिया था. यही नहीं, TIME Magazine ने तो उन्हें 1937 का सबसे अमीर आदमी बताया था. उन्होंने लगभग 37 साल राज किया और इस दौरान उन्होंने बेशुमार दौलत इकट्ठी कर ली थी.

ये सारी दौलत उन्होंने King Kothi Palace के भूमिगत कक्षों में छुपा रखी थी. उनके खज़ाने में रूबी, हीरे, मोती, नीलम जैसे बहुमूल्य रत्नों से जड़े बेशकीमती गहने थे. इस खज़ाने को अब तक कोई खोज नहीं पाया है.

4. Grosvenor जहाज़, दक्षिण अफ्रीका

Grosvenor जहाज़, British East India Company का लापता हुआ सबसे बड़ा जहाज़ माना जाता है. मार्च, 1782 में ये जहाज़ England के लिए मद्रास से निकला था. जहाज़ कीमती माल ले जा रहा था, जिसमें सोना और अन्य हीरे-जवाहरात शामिल थे. 4 अगस्त, 1782 को ये जहाज़ Cape Town के पास डूब गया. बाद में इस जहाज़ के मलबे को तो ढूंढ निकाला गया, पर खज़ाने का एक छोटा हिस्सा ही बरामद हो सका, बाकी का खज़ाना अब भी वहीँ है.

5. पद्मनाभस्वामी मंदिर Chamber B, केरल

तिरुवनंतपुरम का पद्मनाभस्वामी मंदिर जून 2011 में सुर्ख़ियों में आया था. इसके एक भूमिगत मेहराब को कोर्ट के आदेश से खोला गया था. इसके अन्दर जो मिला, वो चौंकाने वाला था. इसमें विभिन्न तरह के गहने, मुकुट, सोने के बर्तन और कई कीमती रत्न निकले. इसमें लगभग 13,96,01,00,00,000 रुपये का खज़ाना निकला था.

इस मंदिर में एक और ऐसा भूमिगत मेहराब है, जहां एक और खज़ाना होने की आशंका है. लेकिन Supreme Court ने आदेश दिए हैं कि इसे पहले खज़ाने में मिली वस्तुओं का यथोचित प्रलेखीकरण हो जाने के बाद ही खोला जाए.

मंदिर के पुजारियों का कहना है कि यदि दूसरे मेहराब को खोला गया तो भयंकर तबाही आ सकती है. ऐसा माना जाता है कि इस खज़ाने की रखवाली महाकाय नाग करते हैं. देखना दिलचस्प होगा कि इस मेहराब से क्या निकलता है.

6. Nuestra Senora de Atocha, Key West, Florida, U.S.A

1622 में Spanish जहाज़ों का दस्ता Nuestra Senora de Atocha वापस Spain लौट रहा था. Florida के पास तूफ़ान में कई जहाज़ डूब गए. इन जहाज़ों में लूटे हुए हीरे-जवाहरात थे, आज उनकी कीमत 700 Million डॉलर होती.

इस खज़ाने का ज़्यादातर हिस्सा खोजा जा चुका है. Treasure Hunter Mel Fisher ने $500 Million का खज़ाना 1985 में ढूंढ निकाला था. एक्सपर्ट्स का मानना है कि अब भी करोड़ों का सोना ढूंढा जाना बाकी है.

7. San Miguel का गुप्त खज़ाना

17वीं शताब्दी में Spain में सबसे बड़ा खज़ाना था. 11 जहाज़ों में सोना और हीरे जवाहरात भर कर कुछ लोग Cuba के लिए निकले थे. दुर्भाग्यवश निकलने के 6 दिन बाद ही तूफ़ान में सारे जहाज़ डूब गए. हज़ारों नाविकों की मौत हो गयी. उन 11 जहाज़ों में से 7 अब तक ढूंढे जा चुके हैं, पर San Miguel यानी वो जहाज़ जिसमें खज़ाने का सबसे बड़ा हिस्सा था, वो नहीं मिल पाया है. ज़्यादातर जहाज़ Florida के तटों के आस-पास मिले हैं.

8. Guatavita झील में छुपा सोना, Colombia

इस झील के आस-पास रहने वाले लोग एक अजीब परंपरा निभाते हैं. वहां के स्थानीय निवासी इस झील के चारों तरफ इकठ्ठा होते हैं, पानी के देवता को खुश करने के लिए वहां के पुजारी सोने के टुकड़े झील में फेंकते हैं. इस तरह इस झील के तल में काफी सोना जमा हो चुका है, पर इसे कोई निकाल नहीं सकता. Colombian सरकार ने नदी में सोना खोजने पर रोक लगा दी है.

9. नाज़ी का खज़ाना, Austria

Austria की Toplitz झील कोई आम झील नहीं है, ये झील इतनी ऊंचाई पर है कि वहां मछलियों का जिंदा रहना भी मुश्किल है. नाज़ियों ने अपना सारा चुराया हुआ सोना इस झील में फेंक दिया था. 2002 में इस खज़ाने को खोजने के लिए एक अभियान शुरू किया गया था. इस खज़ाने को ढूंढने के लिए दल को 30 दिनों का समय दिया गया था. इस दौरान दल के सामने मौसम के कारण इतनी परेशानियां आयीं कि उस मुश्किल वातावरण में वो कुछ नहीं ढूंढ पाए. अब भी वो सोना उसी झील में है.

10. La Chouette D’or, France में छुपा है सोने का उल्लू

1993 में “Max Valentin नाम के एक रहस्यमयी शख्स ने फ़्रांस में एक सोने का उल्लू छुपा दिया था. उसने कहा था कि उल्लू को ढूंढने वाले को वो 1 Million Francs तोहफे में देगा. इसके लिए उसने 11 सुराग भी दिए थे. तबसे कई लोग उस उल्लू को खोजने के जतन कर चुके हैं, पर वो किसी के हाथ न लगा. 2009 में उस शख्स की मौत हो गयी और इस सोने के उल्लू का राज़ भी उसके साथ दफन हो गया.

Feature Image: History

Source: Indiatimes