DW
Source: DW

Einstein Tongue Pic Story: महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन की ये फ़ोटो 70 साल से भी ज़्यादा पुरानी है. ये तस्वीर दुनिया में उनकी सबसे ज़्यादा प्रसिद्ध फ़ोटो में से एक है.


तो आइए इस फ़ोटो की कहानी (Einstein Tongue Pic Story In Hindi) जानते हैं -

आइंस्टीन के जीभ दिखाने वाले फ़ोटो की स्टोरी - Einstein Tongue Pic Story In Hindi

albert-Einstein-most-iconic-photo
Source: dw

Einstein Tongue Pic Story In Hindi: 14 मार्च, 1951 का दिन था. मौका था अल्बर्ट आइंस्टीन के 72वें जन्मदिन का. विश्व प्रसिद्ध भौतिकशास्त्री का जन्म जर्मनी के उल्म शहर में हुआ था. लेकिन बहुत सालों से वो अमेरिका में बसे थे. उस वक्त आइंस्टीन न्यू जर्सी के प्रिंसटन में Institute For Advanced Study में काम करते थे. रिसर्च सेंटर में ही उनके सम्मान में ख़ास बर्थडे पार्टी का आयोजन किया गया था. आयोजन स्थल के बाहर काफ़ी सारे मीडिया कर्मियों का तांता लगा हुआ था.


जब आइंस्टीन वहां से बाहर निकले तो पत्रकार उनसे बात करना चाहते थे. विश्व प्रसिद्ध प्रोफेसर राजनीति और दर्शन समेत दुनिया के तमाम विषयों पर अपने खास मज़ाहिया अंदाज़ में बात रखने के लिए भी जाने जाते थे. और ज़ाहिर है कि फ़ोटोग्राफर जन्मदिन के मौके पर उनकी तस्वीरें लेने का भी इरादा रखते थे. 

लेकिन आइंस्टीन को मीडिया में आने का कोई शौक नहीं था. वो कई मुद्दों पर अपनी राय देने से भी बचना चाहते थे. इस सबके मद्देनजर वहां मीडिया का जमावड़ा देख कर उन्हें थोड़ी खीज़ हुई. मगर वहां से निकलना चूंकि उनकी मजबूरी थी इसलिए जाकर लंबी लिमोजीन कार में पीछे की सीट पर बैठ गए. सीट पर एक ओर उनके संस्थान के पूर्व निदेशक फ्रैंक ऐडेलट बैठे थे और उनके दूसरी ओर ऐडेलट की पत्नी मैरी. कैमरे से बचने की तमाम कोशिशों के बावजूद आइंस्टीन के चेहरे पर फ्लैश लाइट चमकते ही जा रहे थे. 

Einstein Rare Pic
Source: discovery.sndimg

Einstein Tongue Pic Story In Hindi: बताया जाता है कि बार बार उन्हें कोई बयान देने के लिए बोलने वाले एक रिपोर्टर से उन्होंने चिल्ला कर कहा था "बस बहुत हो गया..." लेकिन तभी किसी रिपोर्टर ने आवाज लगाई "हे, प्रोफेसर, एक बर्थडे फ़ोटो के लिए तो मुस्कराइए, प्लीज." इस पर तंग आकर आइंस्टीन ने अपने आज़ादख्याल अंदाज़ में जीभ बाहर निकाल कर मुंह चिढ़ाया था. ये वो पल था जो फ़ोटोग्राफ़र Arthur Sasse ने अपने कैमरे में कैद कर लिया. ये बेहद अलग सी फ़ोटो बहुत ज़ल्द अमेरिका से दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में पहुंच गई. आगे चल कर आइंस्टीन की सबसे यादग़ार फ़ोटो में इस तस्वीर को गिना जाने लगा. 

अक़्सर अपने में ही खोए रहने वाले प्रोफेसर के कई किस्से हैं. उनके बेतरतीब बालों से लेकर, कभी-कभी मोजे पहनना भूल जाने की आदत तक. लेकिन Theory Of Relativity देने वाले विलक्षण बौद्धिक क्षमता वाले वैज्ञानिक आइंस्टीन अपने जीते जी ही दुनिया भर में एक विशिष्ट व्यक्ति के रूप में काफ़ी ख़्याति पा चुके थे. जीभ निकाले इस मज़ेदार सी फ़ोटो के बाद, तो उन्हें किसी पॉप आइकन जैसा दर्जा मिल गया था. 

ये भी पढ़ें: अल्बर्ट आइंस्टीन के वो 30 कोट्स, जिनमें जीवन जीने की कला से लेकर सफ़लता के राज़ हैं

albert-Einstein-most-iconic-photo
Source: dw

Einstein Tongue Pic Story In Hindi: मज़े की बात ये भी है कि ज़िस फ़ोटोग्राफर ने ये तस्वीर खींची थी, उसकी इसे दुनिया भर में फैलाने में ज़्यादा भूमिका नहीं रही. असल में आइंस्टीन नहीं चाहते थे कि ऐडेलट दंपत्ति उनकी ऐसी फ़ोटो में नज़र आएं इसलिए उन्होंने खुद उस फ़ोटो के अनगिनत प्रिंट ऑर्डर किए. और उस फ़ोटो को ऐसे काटा ताकि बाकी दोनों लोग ना दिखें और फिर ऐसी दर्जनों फ़ोटो अपने साथ काम करने वालों, दोस्तों और जानने वालों को भेज दीं.

अपनी एक दोस्त योहाना फैन्टोवा को ये तस्वीर भेजते हुए उन्होंने लिखा, "ये बाहर निकली हुई जीभ मेरे राजनीतिक मत जैसी है." सन 2009 में उनकी साइन की हुई फ़ोटो की एक मूल प्रति नीलामी में 74,324 डॉलर की बिकी. इसी के साथ ये आइंस्टीन की सबसे महंगी फ़ोटो बन गई. 

ये भी पढ़ें:  पूरे विश्व को विज्ञान की नयी परिभाषा देने वाले महान अल्बर्ट आइंस्टीन के बारे में कितना जानते हैं आप?  

albert-einstein
Source: dw

Einstein Tongue Pic Story: सन 1951 की इस तस्वीर को तबसे करोड़ों बार छापा गया है. टी-शर्ट, पोस्टर, मग या म्यूरल हर जग़ह. और इस दुनिया से जाने के इतने साल बाद भी बच्चे से बूढ़े तक उनके काम, विज्ञान में आइंस्टीन के योगदान, उनके दर्शन और स्वच्छंद अंदाज के कारण उनके प्रशंसकों की कोई कमी नहीं है. 

ये भी पढ़ें: 'महान साइंटिस्ट' आइंस्टीन औरतों के बारे में रखते थे ग़लत सोच, अगर वो आज होते तो महान नहीं कहलाते