बांग्लादेश (Bangladesh) की राजधानी ढाका (Dhaka), इतिहास (History) के कई पन्नोंं पर अपने क़िस्से-कहानियां समेटे है. मुगल काल में इसे जहांगीर नगर के नाम से जानते थे. उस वक़्त ये अविभाजित बंगाल की राजधानी था. 19वीं सदी में अंग्रेज़ी हुकूमत के अधीन आया और जल्द ही कलकत्ता के बाद ढाका बंगाल का दूसरा सबसे बड़ा नगर बन गया. भारत-पाक विभाजन के बाद ढाका भारत से अलग हुआ और पूर्वी पाकिस्तान की राजधानी बन गया. 1971 में पाक से टूटकर बांग्लादेश अलग मुल्क़ बना तो अगले ही साल ढाका नए देश की राजधानी के तौर पर पहचाना गया. 

आज हम कुछ पुरानी तस्वीरें (Old Photos) लेकर आए हैं, जिसमें आपको 70 के दशक में इस राजधानी शहर के लोगों की ज़िंदगी देखने को मिलेगी. ये सभी तस्वीरें एक ब्रिटिश फ़ोटोग्राफ़र Roger Gwynn द्वारा खींची गई हैं.

1. तोपखाना रोड, प्रेस क्लब एरिया (1965)

Topkhana Road
Source: globalvoices

2. विक्टोरिया पार्क क्षेत्र, सदरघाट (1967)

Victoria Par
Source: globalvoices

3. न्यू मार्केट क्षेत्र में ठेलों पर सामान ढोने वाले कुली (1965)

Handcart porters
Source: globalvoices

4. मीरपुर रोड, न्यू मार्केट का स्ट्रीट सीन (1965)

Mirpur Road
Source: globalvoices

5. हरदेव ग्लास फैक्ट्री, डेमरा रोड (1965)

Dhaka
Source: globalvoices

6. बायोस्कोप शो का आनंद लेते बच्चे (1960)

Bioscope show
Source: globalvoices

7. धानमंडी रोड नंबर 2 का स्ट्रीट सीन (1965)

Dhanmondi Road
Source: globalvoices

8. पानी भरकर ले जाता शख़्स (1965)

Water carrier,
Source: globalvoices

9. मॉर्निंग स्ट्रीट मार्केट में ताज़े पानी की मछलियों की ख़रीद-फ़रोख़्त (1960)

fresh fish on sale
Source: globalvoices

10. चाय की दुक़ान में अख़बार पढ़ता एक शख़्स (1965)

Bangladesh
Source: globalvoices

11. कुरान का पाठ करती बच्चियां (1960)

old dhaka
Source: globalvoices

ये भी पढ़ें: इन 10 दुर्लभ तस्वीरों में देखें, 20वीं शताब्दी में कैसा नज़र आता था हमारा पड़ोसी देश भूटान

पहले की तस्वीरों में एक अलग ही सादगी नज़र आती थी और शायद यही बात उन्हें इतना ख़ास बना देती है.