UK के एक नए अध्ययन में पता चला है कि कुछ ब्रांड्स के एक कप हॉट चॉकलेट में इतना नमक होता है, जितना कि समुद्री पानी में. कई ब्रांड्स में तो नमक की मात्रा, सामान्य मात्रा से सोलह गुना अधिक तक पायी गयी है.

लन्दन की Queen Mary University के शोधकर्ताओं ने 28 खाद्य वस्तुओं का अध्ययन किया, जिसमें ये बात सामने आई. इन खाद्य पदार्थों में हॉट चॉकलेट, चिप्स, बर्गर, फ़्रेंच ड्रेसिंग आदि शामिल थे.

अटलांटिक के एक मिली लीटर पानी में एक ग्राम सोडियम पाया जाता है. चॉकलेट पाउडर में भी इसी मात्रा में नमक पाया गया था.

खाने-पीने के कई सामानों में नमक की मात्रा, Public Health England द्वारा तय किये गए मानकों से कहीं ज़्यादा पायी गई. कई लोग ज़्यादा नमक का सेवन करने के कारण हाई ब्लड प्रेशर, दिल की बीमारी और किडनी की बीमारी से ग्रस्त हो रहे हैं.

आम तौर पर लोग समझते हैं कि मीठी चीज़ों में नमक नहीं होता है, पर ये स्टडी साबित करती है कि मीठा खाने से भी शरीर में नमक की मात्रा बढ़ सकती है.

Feature Image: Thefashionsupernova

Source: Hindustantimes