आज बॉलीवुड के सुपरस्टार, सलमान खान का बर्थडे है. न तो मुझे आपसे ये पूछना है कि, 'आप मेरी भाभी कब लेकर आ रहे हैं', न ही आपके ह्यूमन (Being Human पढ़ें) होने की बहस में शामिल होना है.

Source: Miss Malini

मैं उन Pseudo-Intellectuals में भी नहीं हूं, जो ये कहते हैं कि हम सलमान खान की फ़िल्में नहीं देखेंगे.

Source: India Khabar.com

आप माने न माने, लेकिन सच्चाई ये है कि सलमान खान का नाम हिट फ़िल्मों से जुड़ा है. इस नाम से ही लाखों फैन्स फर्स्ट डे, फर्स्ट शो देखने आते हैं. इसलिए हम या आप ऐसा सोचते हैं कि जी हम तो सलमान खान के स्टारडम को नकार देंगे, तो सर, ये हमारी गलती है.

Source: India.com

इस साल वो उम्र और एक्सपीरियंस के लिहाज़ की एक सीढ़ी और चढ़ेंगे और इस साल भी लाखों लोग उनकी फ़िल्में देखने आएंगे, इस साल भी कोई न कोई लड़का शर्टलेस हो कर, 'ओ ओ जाने जाना' ज़रूर गायेगा. इसलिए, आज सलमान के जन्मदिन पर मेरी उनसे एक ही रिक्वेस्ट है.

स्टार के तौर पर वो बहुत फ़िल्में कर चुके, इस साल एक एक्टर के तौर पर फिल्में कर लीजिये.

Source: Rediff.com

सलमान के पास वो फैनबेस है, जो हर एक्टर/ स्टार को नसीब नहीं होता, ऐसा हो ही नहीं सकता कि अगर वो अपने रोल्स के साथ एक्सपेरिमेंट करेंगे, तो लोग उन्हें देखने नहीं आएंगे. फ़िल्मी क्रिटिक्स ने हमेशा से ही सलमान को बिना स्क्रिप्ट के फ़िल्में हिट करवाने का इल्ज़ाम लगाया है. क्यों न इस साल सलमान अच्छी स्क्रिप्ट वाली फिल्मों को हिट करवा दें?

Source: India.com

HIV एड्स पर बनी रेवथी की फ़िल्म, 'फिर मिलेंगे', 'गर्व' के बाद से मेरे अंदर का सलमान फैन, एक्टर सलमान को हर साल ढूंढता है. लेकिन हर साल मुझे दंबंग, एक था टाइगर, रेडी जैसी फिल्मों से हताशा मिलती है. बजरंगी भाईजान ने एक पल के लिए अच्छा फील करवाया, लेकिन कमर्शियल-मसाला फिल्म बनने के प्रेशर में अंत तक उसकी स्क्रिप्ट कहीं खो गयी.

Source: Indian Express

एक सिनेमा लवर होने के नाते सलमान से मेरी ये रिक्वेस्ट हो सकता है नाजायज़ हो, हो सकता है कि सलमान सिर्फ़ कुछ ख़ास तरह की फिल्में करते रहना चाहते हों, हो सकता है कुछ दर्शकों को भी उनकी ऐसी ही फिल्मों का इंतज़ार रहता हो, लेकिन दुनिया की सबसे बड़ी फिल्म इंडस्ट्री के स्टार होने के नाते ये सलमान की ज़िम्मेदारी नहीं बनती कि वो कुछ अच्छी फ़िल्में कर जाएं?

ज़्यादा से ज़्यादा क्या होगा? फ़िल्मी क्रिटिक फिर से यही कहेंगे, कि सलमान उस तरह की ही फ़िल्मों में अच्छा लगता है. या हो सकता है सलमान की इस फ़िल्म का बॉक्स ऑफिस कलेक्शन पहली बार कम हो, या हो सकता है कि इस बार ईद पर लोगों को किसी और फ़िल्म का इंतज़ार करना पड़े. लेकिन तुम्हारे जो फैन हैं, वो फिर भी तुम्हारी फ़िल्म देखने आएंगे, शायद इस बार और गर्व से आएंगे कि हम उस सलमान के फैन हैं, जो बेहतरीन फ़िल्में कर चुका है.

ये सच है कि समाज 'सलमान फैन क्लब' को ऐसे दर्शकों की कैटेगरी में रखता है, जो प्रोग्रेसिव सिनेमा की समझ से दूर हैं, या जो एक खास धार्मिक वर्ग के होने की वजह से सल्लू भाई की फिल्में देखते हैं.

Source: Indian Express

आपकी एक्टिंग एक बार पर्दे पर दिख जाए, तो इसका सबसे बड़ा फायदा आपको ही होगा. शायद इसके बाद मीडिया के पास आपके बारे में बात करने के लिए कुछ ढंग की बातें होंगी. हो सकता है आपको फाइनली अपनी शादी की अटकलों, और अफेयर्स की मीडिया लिस्ट से छुटकारा मिल जाए. शायद तब जा कर लोग सलमान की एक्टिंग की बात करने लगें.

Most Eligible Bachelor तो दुनिया ने आपको बना दिया, इस बर्थडे पर एक बेहतरीन एक्टर आप ख़ुद को बना लीजिये.

(फ़ायदा ज़्यादा न हो, तो नुकसान भी नहीं होगा)