कहते हैं कि हर बुरे दिन के बाद एक अच्छा दिन शुरू होता है, लेकिन उनका क्या जिनका हर दिन ही बुरा गुज़रता है! कभी-कभी तो दिन इतना बुरा जाता है कि इसके बारे में सोच कर ही हम परेशान हो जाते हैं. अगर आज आपका दिन भी अच्छा नहीं गुज़रा है, तो मूड ख़राब करने की ज़रूरत नहीं. इस दुनिया में कई प्राणी ऐसे भी हैं जिनके दिन की शुरुआत ही बुरे से होती है. य़कीन न हो तो आप खु़द ही इसकी कुछ मज़ेदार तस्वीरें देख लीजिए. यकीन मानिये इन्हें देखकर आपका दिन मज़े में गुजरेगा.

ये भी पढ़ें- बुरा दिन कैसा होता है, ये इन 26 तस्वीरों को देख कर समझ आ जाएगा 

चलिए अब ये मज़ेदार तस्वीरें भी देख लीजिये-

1- जब टशन मारने के चक्कर में बेइज्जती हो जाए  

Source: reckontalk

2- ऑफ़िस से थककर आये हों और ये हो जाये

Source: reckontalk

3- सुबह जब घर से ऑफ़िस जाने के लिए पार्किंग में आये तो ये देखने को मिला

Source: reckontalk

4- MacBook को कैंडल के पास रखोगे तो यही होगा  

Source: reckontalk

5- ये कम्बख़्त भूख़ न जाने क्या-क्या करवाएगी

Source: reckontalk

6- अब इससे बाहर कैसे निकलें!

Source: reckontalk

7- सोचा था सुकून से इस पार्क में आराम करूंगा

Source: reckontalk

ये भी पढ़ें- अपने बुरे दिन पर रो रहे हो, तो इन 30 लोगों से मिल लो दिन हंसते-हंसते गुज़र जायेगा

8- जब नहा धोकर और नये कपडे पहनकर घूमने निकले  

Source: reckontalk

9- कभी-कभी ऐसे नज़ारे भी देखने को मिल जाते हैं

Source: reckontalk

10- टायर में हवा भर क्यों नहीं रही है? 

Source: reckontalk

11- अब आप ही बताइये कार को पूल से बाहर कैसे निकालूं

Source: reckontalk

12- इससे ख़राब किस्मत और क्या हो सकती!

Source: reckontalk

13- टाइट जींस पहनने के ये नतीज़ भी हो सकते हैं

Source: reckontalk

ये भी पढ़ें- बुरा, बहुत बुरा और फिर शुरू हुआ इन 50 लोगों का दिन, देख कर हंसते-हंसते आंसू ही आ जाएंगे

14- मालूम नहीं था सड़क कच्ची है

Source: reckontalk

15- एस्कलेटर में थोड़ा ध्यान से चढ़ें

Source: reckontalk

16- जब नहा रहे हों और कुत्ता ये काम कर जाए

Source: boredpanda

17- मैं तो बस चीनी का डिब्बा निकाल रहा था  

Source: boredpanda

18- ऑफ़िस के लिए लेट हो रहा था और ये हो गया  

Source: boredpanda

अब भी आप कहेंगे कि आपका दिन सबसे बुरा था?     

ये भी पढ़ें- बुरा दिन कैसा होता है कोई इन 18 लोगों से पूछे, जिन्होंने ऐसी कल्पना नहीं की होगी