यूपी पुलिस के 8 पुलिसकर्मियों की हत्या का मुख्य आरोपी विकास दुबे शुक्रवार को पुलिस एनकाउंटर में मार गिराया गया. इस ख़बर के आते ही सोशल मीडिया पर एनकाउंटर के रियल और फ़ेक होने को लेकर बहस छिड़ गई. तमाम तरह के आरोप लग रहे हैं.

Source: dnaindia

हालांकि, इन सबके बीच एक अलग ही क़िस्म की तफ़रीबाज़ी शुरू हो गई है. ट्विटर पर लोगों ने महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा को ग़ज़ब ट्रोल करना शुरू कर दिया है.

Source: thehindu

दरअसल, पुलिस की एनकाउंटर थ्योरी कहती है कि जब गैंगस्टर विकास को कानपुर ला रहे थे, तब ही बीच रास्ते में गाड़ी पलट गई. बस यहीं लोगों को कलाकारी करने का मस्त मौका मिल गया. काहे कि जो गाड़ी पलटी थी, वो महिंद्रा टीयूवी 300 थी.

Source: twitter

फिर जो ट्विटर पर आनंद महिंद्र की हौंक के ख़िंचाई शुरू हुई है, अब क्या ही कहें... आप ख़ुद ही देख लीजिए.

बेचारे महिंद्रा साहब भी सोच रहे होंगे कि ससुरा तुम लोगों को इत्ती गाड़ियों में हमारी गाड़ी ही मिली थी ‘पलटने या पलटवाने’ के लिए. मतलब अपराधी नहीं बंद कर पाए तो धंधा ही बंद करवाने पर तुल गए. ग़ज़ब हाल है.