राजीव मसंद का The Newcomers Roundtable 2019 चल रहा था. अनन्या पांडे, सिद्धांत चतुर्वेदी, तारा सुतारिया, विशाल जेठवा, अभिमन्यू दसानी, सलोनी बत्रा और गीतिका वैद्य इसमें शामिल थे. अलग-अलग विषयों पर बातें चल रही थीं.


इंटरव्यू के दौरान अनन्या पांडे अपने संघर्ष के बारे में बताने लगीं.

मैं हमेशा एक एक्टर बनना चाहती थी. क्योंकि मेरे पिता एक्टर थे इसलिए मैं अभिनय के किसी भी मौके को ना नहीं कहती. मेरे पिता कभी किसी धर्मा फ़िल्म में नहीं थे वो कभी कॉफ़ी विद करन में नहीं गये. इसलिये ये इतना आसान नहीं है जितना लोग बोलते हैं. सबके अपने सफ़र हैं अपने संघर्ष हैं.

- अनन्या पांडे

ठीक इसी वक़्त गली बॉय अभिनेता सिद्धांत ने कुछ ऐसा कह दिया जो मीम्स का टॉपिक बन गया है.

जहां हमारे सपने पूरे होते हैं, वहां इनके स्ट्रगल शुरू होते हैं.

- सिद्धांत चतुर्वेदी

अब कुछ मीम्स भी देख लीजिये-