कोई ज़रूर जल रहा होगा हमारी खुशी से आसमान में, वरना इतनी गर्मी पहले तो ना थी…

जी हां, आजकल गर्मी का हाल कुछ ऐसा ही है कि दिल से अजीबोगरीब शायरियां निकलने लगी हैं. पर ये मेरी ग़लती नहीं है, इस झुलसती धूप ने मेरा दिमाग़ ख़राब कर रखा है. चलो धूप से तो मैं जैसे-तैसे बच जाती हूं, लेकिन उन लोगों का क्या करूं, जो अपनी बातों से मेरा दिमाग़ गर्म कर देते हैं. एक तरफ़ धूप मेरे मज़े ले रही होती है, दूसरी तरफ़ ये लोग ऐसी-ऐसी हरकतें करते हैं कि मेरा दिमाग़ फट के फलावर हो जाता है.

गर्मी से तड़प रहा है कोई तो उसके सामने ऐसी बातें किया न करो…

सड़ी गर्मी में चाय पीने वाले

गर्मी में सबसे ज़्यादा राहत देता है ठंडा पानी. पानी से थोड़ा आगे बढ़े तो जूस, शेक्स और कोल्ड कॉफ़ी पर हमारी सुई अटक जाती है. लेकिन हमारे बीच कुछ ऐसे अजूबे भी हैं, जो इस सड़ी गर्मी में भी चाय की चुसकियां लेने से बाज़ नहीं आते. सर्दी हो या गर्मी, ऐसे लोगों का मौसम से कोई वास्ता नहीं होता. इन्हें प्यार है, तो सिर्फ़ अपने चाय के प्याले से.

मेट्रो में स्कार्फ़ बांधने वाली लड़कियां

घर से निकलने पर मुंह पर स्कार्फ़ बांधना ठीक है, लेकिन कुछ लड़कियां मेट्रो-बस के अंदर भी जग्गा डाकू बनकर घूमती है. अरे, इन्हें कोई समझाए कि मेट्रो में AC चल रहा है! ये दुपट्टा अपने चेहरे पर बांधती हैं, इन्हें देख कर दम मेरा घुटता है.

मॉल में सनग्लासेज़ लगाकर घूमने वाले

अपना स्टाइल स्टेटमेंट होना सही चीज़ है, लेकिन कुछ लोगों का स्टाइल आपका दिमाग गर्म करने के लिए काफ़ी होता है. यहां हम किसी के फ़ैशन सेंस को जज नहीं कर रहे हैं, लेकिन मॉल के अंदर सनग्लासेज़ लगाकर घूमने वालों का Swag अलग है. मान लिया कि तुम कूल हो और तुम्हारे पास Ray-Ban के ग्लासेज़ है, लेकिन मॉल के अंदर सनग्लासेज़ कौन लगाता है भाई? कम से कम इतना तो समझो कि इन्हें ‘Sun’glasses किसी वजह से कहा जाता है.

फ़्लोरल कपड़े पहनकर #summervibes हैशटैग देने वाले

गर्मियां शुरू हुई नहीं कि Facebook से Instagram तक, हर जगह #summervibes #summerstyle #summerfun के हैशटैग नज़र आने लगते हैं. फ़्लोरल कपड़ों में फ़ोटो लगाकर #summervibes लिखने वाली लड़कियों..जनता तुम्हें माफ़ नहीं करेगी. तुम्हारी इस समर वाइब्स के चक्कर में हमें हीट स्ट्रोक हो रहा है.

गर्मी में भी न नहाने वाले

गर्मी में सबसे अच्छा लगता है पानी. वीकेंड पर अगर वॉटर पार्क जाने की बात हो, तो जन्नत मिलने जैसा लगता है. लेकिन हमारे बीच कुछ ऐसे लोग भी हैं, जो इस बेतहाशा गर्मी में भी नहाना पसंद नहीं करते हैं. बस इन्हें उनका आलस कहें या पानी से उनकी दुश्मनी, लेकिन ऐसे लोगों को देखकर हमें पसीना आने लगता है.

गर्मियों में शादी करने वाले

माना कि तुम्हें शादी की जल्दी है और पंडित जी को भी तुमने अपनी टीम में शामिल कर जल्दी का मुहूर्त निकलवा लिया है, लेकिन गर्मी में कौन शादी करता है यार? इतनी गर्मी में भारी-भरकम कपड़े और मेकअप तुम्हें पसंद होगा, हमसे न हो पाएगा!

दिन में मिलने का प्लान बनाने वाले

वो दोस्त, जो हमेशा ये बहाने बनाते है कि ‘यार नहीं रात में नहीं मिल सकते हैं, मम्मी नहीं आने देगी’ और गर्मी में भी दिन में मिलने के लिए फ़ोर्स करते हैं. वो दोस्त नहीं धोखा है… तोड़ लो दोस्ती अभी भी मौका है.

सर्दियों को गाली देने वाले

क्या आपके ग्रुप में भी ऐसे दोस्त हैं, जिन्हें विंटर्स बिल्कुल पसंद नहीं? ऐसे लोगों को देखकर दिमाग़ की नसें तन जाती है. आखिर सर्दियों से कोई कैसे नफ़रत कर सकता है? सर्दियों में ही तो हम मज़ेदार खाना खा पाते हैं और मोटी जैकेट के नीचे घर के कपड़े पहनकर मीलों तक घूम आते हैं! तुम कैसे सर्दियों से नफ़रत कर सकते हो!

हे भगवान! उठा ले मुझे और पटक दे Switzerland में…