'कोर्टरूम'... ये एक ऐसी जगह है, जहां हर व्यक्ति एकदम सीरियस मूड में बैठता है. अपराधी, वकील, जज सब यहां मौजूद होते हैं. तफ़री काटने की कोई गुंजाइश नहीं होती है. मगर जब से कोरोना वायरस आया है मामला थोड़ा बदल गया है. सभी चीज़ों की तरह अदालतें भी ऑनलाइन हो गई हैं. वर्चुअल कोर्ट्स में सुनवाई हो रही हैं.

ऐसे में कुछ लोग हैं, जिन्होंने शायद कोर्टरूम को हलके में लेना शुरू कर दिया. यही वजह है कि वो वर्चुअल सुनवाई में ऐसे-ऐसे कांड करते हैं कि मीडिया से लेकर सोशल मीडिया तक सुर्खियां बटोर लेते हैं.

आज हम आपके लिए ऐसी ही विचित्र-विचित्र प्रकार के कांड (Bizarre Incidents) लेकर आए हैं, जो भारतीय कोर्ट्स की वर्चुअल सुनवाई (Virtual Court Hearings) के दौरान सामने आए. तो देखिए और मौज काटिए.

ये भी पढ़ें: 'रात में नींद आती नहीं, वर्क फ़्रॉम होम में जाती नहीं' समस्या के शिकार लोगों के लिए 11 तोड़ू टिप्स

1. पुलिस वाले को 'ठंडा' पीते देख जज साहब हुए 'गर्म'

गुजरात हाई कोर्ट (Gujarat High Court) एक मामले पर वर्चुअल सुनवाई कर रहा था. इस दौरान एक पुलिस ऑफ़िसर ए.एम. राठौड़ कोको कोला (Coca-Cola) की चुस्की लेते नज़र आए. ये देखकर जज साहब को आ गया ग़ुस्सा. बोले- 'क्या ये एक अधिकारी का काम है? अगर वो फ़िज़िकल कोर्ट में होता तो क्या कोका-कोला ला सकता था?'

इतना ही नहीं, जज साहब ने पुलिस अधिकारी को बार एसोसिएशन में कोका-कोला के 100 कैन बांटने का आदेश दिया. साथ ही कहा कि अगर ऐसा नहीं हुआ, तो हम मुख्य सचिव से अधिकारी के ख़िलाफ़ अनुशासनात्मक कार्यवाही शुरू करने के लिए कहेंगे.

2. जब ऑनलाइन सुनवाई में गायक की हुई एंट्री

एक्ट्रेस जूही चावला (Juhi Chawla) ने देश में 5जी नेटवर्क की स्थापना के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. इसकी ऑनलाइन सुनवाई चल रही थी. तब ही एक शख़्स ने उनकी 1993 की फिल्म 'हम हैं राही प्यार के' का गीत 'घूंघट की आड़ से दिलबर का' गुनगुनाना शुरू कर दिया. तुरंत ही जज ने उसे म्यूट करने के लिए कहा, पर कुछ हुआ नहीं. दोबारा सुनवाई शुरू हुई, तो फिर किसी ने गाना शुरू कर दिया- 'लाल लाल होटों पे गोरी किसका नाम है.' 

इसके बाद सुनवाई कर रहे हाईकोर्ट के जज नाराज हो गए. उन्होंने कहा कि इस शख़्स की पहचान करें और अवमानना नोटिस जारी करें. मगर दिलचस्प बात ये थी कि जूही चावला ने ही सुनवाई का लिंंक अपने सोशल अकाउंट्स पर शेयर कर लोगों को इनवाइट किया था. अब जब दुनियाभर के लोग जुटेंगे तो ऐसे कांड तो होने ही हैं.

3. वकील साहब गुड़गुड़ाने लगे हुक्का

वरिष्ठ अधिवक्ता राजीव धवन राजस्थान हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान हुक्का गुड़गुड़ाते हुए दिखे थे. ऐसा करते हुए धवन का वीडियो भी वायरल हो गया था. ऑनलाइन सुनवाई के दौरान वो अपने चेहरे के सामने कुछ कागज पकड़े हुए दिख रहे थे और इसके पीछे धुएं के छल्ले निकलते दिखाई देने लगे. 

4. महिला संग इश्क़ फ़रमाने लगे वकील साहब

मद्रास हाई कोर्ट की वर्चुअल कोर्ट में सुनवाई के दौरान, वकील साहब किसी महिला से इश्‍क़ फरमाने लगे. उनका कैमरा ऑन रह था और सबकुछ टेलिकास्‍ट हो गया. इस का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसमें वो महिला के साथ अंतरंग पलों में व्यस्त नज़र आए. इस हरकत के लिए तमिलनाडु बरा काउंसिल ने वकील आरडी संथाना कृष्णन सस्पेंड कर दिया था.  

love
Source: tenor

5. स्कूटर पर बैठकर शुरू कर दी वकालत

ये दिलचस्प मामला इलाहाबाद हाईकोर्ट की सुनवाई के दौरान हुआ. वकील अमर सिंह कश्यप को ऑनलाइन सुनवाई में शामिल होना था, तो वो जल्दीबाज़ी में अपनी स्कूटर बैठे-बैठे कोर्ट को एड्रेस करने लगे. इस पर कोर्ट ने उन्हें सुनने से मना कर दिया. कोर्ट ने सख़्त लहज़े में वकील को चेतावनी भी दी कि ऐसा दोबारा न हो.  

law
Source: indiatvnews

6. कार में चलने लगा सुट्टा

गुजरात हाई कोर्ट में एक मामले की ऑनलाइन सुनवाई चल रही थी. इस दौरान वकील जेवी अजमेरा अपनी कार में बैठे-बैठे सुट्टा पीने लगे. इस पर कोर्ट ने काफ़ी नाराज़गी जताई और वकील पर 10,000 रुपये का जुर्माना भी लगाया. 

7. बनियान में ही पेश हो गए वकील साहब

इलाहाबाद हाईकोर्ट एक मामले की सुनवाई कर रहा था. इस दौरान एक वकील साहब वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में में ही कोर्ट के सामने पेश हो गए. इस पर डबल बेंच ने कड़ी फटकार लगाई और कहा आगे से ऐसा न हो वरना भारी जुर्माना लगेगा. इस पर वकील ने माफ़ी मांगी.

Baniyan
Source: giphy

8. वर्चुअल सुनवाई में ब्रश और शेव करने लगा शख़्स

ये कांड केरल हाईकोर्ट की वर्चुअल सुनवाई के दौरान हुआ. इसमें नज़र आया कि सुनवाई के दौरान एक शख़्स बाथरूम में घूमकर ब्रश और शेव कर रहा है. 

shave
Source: indiatoday

9. सबकुछ भूलकर मस्त चापने लगे खाना

पटना हाईकोर्ट के वकील साहब भी एक मस्त कांड कर बैठे. वो वर्चुअल सुनवाई के वक़्त कैमरा ऑफ़ करना भूल गए और आराम से चपाचप खाना खाने लगे. वहीं, दूसरी तरफ़ सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता  उनको इशारा करते रहे, कि उनका कैमरा ऑन है, मगर उन्होंने ध्यान ही नहीं दिया. फिर उन्हें फ़ोन कर बताया कि उनका कैमरा ऑन है. साथ ही, मज़ाकिया लहज़े में बोले कि खाना यहां भी भेज दो.

वैसे वर्चुअल सुनवाई के दौरान इस तरह के कई मामलों ने हेडलाइन बनाई है. कभी कोई तंबाकू चबाता है, तो कोई बेड पर लेटा रहता है. हालांकि, ऐसा करने वाले बहुत थोड़े से लोग हैं. ज़्यादातर लोग वर्चुअल सुनवाई में भी सलीके से पेश आते हैं.