धुंआ है इधर, धुंआ है उधर

धुंआ ही धुंआ देखूं जिधर

हर साल की तरह इस साल भी दिवाली पर नियमों की अनदेखी और पंजाब/हरियाणा के कुछ किसानों की 'मेहरबानी' के चलते दिल्ली ने इस बार भी स्मॉग की दुशाला ओढ़ ली है.

चारों तरफ़ कोहरा ही कोहरा है पर हम आसमां की ऊंचाइयों में नहीं नीले गगन के तले, प्रदूषण की चादर तले हैं.


स्मॉग से हाल ऐसा बेहाल हुआ कि हमने लिख डाले स्मॉग से प्रेरित कुछ गाने-

कैसे लगा, कमेंट में बताना.