मैं बीजेपी से नाराज़ हूं. मैं यानी 25 से 30 साल का युवा. बीजेपी ने अपने संकल्प पत्र में राम मंदिर, जवान, राष्ट्रीयता, सबको जगह दी लेकिन युवाओं के मुद्दों को भूल गयी.

ये एकलौती पार्टी थी, जिसका नेता Memes और पॉप कल्चर रेफ़रेन्स समझता था!

इन्होंने भी हमारी मांगों को इग्नोर कर दिया. इसलिए मैंने ख़ुद वो चीज़ें लिख दी हैं, जो बीजेपी को अपने संकल्प पत्र में रखनी चाहिए थी.

ऑफ़िस, घर, पब्लिक प्लेस, जहां मन करे, वहां PUBG खेलने दिया जाए और चिकन डिनर की तर्ज पर सोया चाप डिनर मिलना चाहिए.

ऑफ़िस के पास अच्छी चाय-पकौड़ों की दुकान होनी ज़रूरी है.

गौशाला खोलने को स्टार्टअप का दर्जा मिलना चाहिए.

गांजा फूंकना लीगल होना चाहिए (हमें पता है कुछ नेता ये ज़रूर फूंकते हैं)

सैलरी का एक हिस्सा मंथ एन्ड में मिलना चाहिए.

Uber-Ola वाले ड्राइवर का 'कहां जाना है' बोलने पर फ़ाइन लगना चाहिए.

लिव-इन रिलेशनशिप को 'दोस्त के साथ रह रहा हूं' बोलना बंद होना चाहिए.

हर नागरिक को मुकेश अंबानी की प्रॉपर्टी से थोड़ा-थोड़ा शेयर मिलना चाहिये.

NaMo TV की तर्ज पर Netflix भी फ़्री होना चाहिए.

Anti-Romeo Sqaud को Valentine's Day गोवा की फ़्री ट्रिप स्पॉसर करना. थोड़ा चिल करेंगे, ठीक है.

फ़ैमिली WhatsApp Group से Exit करने के बाद दोबारा Add करने को क्रिमिनल ऑफ़ेंस माना जाए.

आपकी तरह हम से भी ये सवाल पूछने को देशद्रोह माना जाए:

साइंस क्यों नहीं लेते?

सैलरी कितनी है?
शादी कब करोगे?
बच्चा कब करोगे?
(और धोनी से, रिटायर कब होगे?)

एक Woke (साधारण भाषा में YO नेता) नेता होने के नाते हम आशा करते हैं मोदी जी अपनी पार्टी के मैनिफ़ेस्टो में हमारी आशाओं को पूरा करेंगे.