बॉलीवुड फ़िल्में तीन चीज़ों से बनती हैं:

गाने, गाने और गाने

स्क्रिप्ट, हीरो, स्टोरी, VFX इन सभी का रोल भी मज़बूत है, लेकिन ऐसा कोई इंसान नहीं जो कह दे कि बॉलीवुड बिना म्यूज़िक के पूरा है. दुनियाभर में हिंदी फ़िल्मों की पहचान उसके म्यूज़िक से होती है और इस म्यूज़िक को लोगों की दिलों तक पहुंचाते हैं सिंगर्स. अपने यहां एक प्लेबैक इंगेर की वैल्यू क्या है, ये उनकी Fan Following से पता चल जाता है. सिंगर्स के लिए इंडस्ट्री में ख़ुद को बनाये रहना भी एक कॉम्पिटिशन होता है. हाल ही में सिंगर शान ने सोशल मीडिया पर काम न मिलने की बात कही थी. इस बात ने उनके बहुत से Fans का दिल तोड़ा होगा. ख़ासकर वो जो उन्हें 'तन्हा दिल' के टाइम से फॉलो कर रहे हैं. सिर्फ़ शान ही नहीं, ऐसे कई सिंगर्स हैं, जो अब गाहे-बगाहे सुनने को मिलते हैं या फिर उन्होंने गाना बंद कर दिया.

चलिए याद करते हैं कुछ ऐसे नामों को, जिन्होंने कभी रातों को ख़ुशनुमा बनाया, तो कभी दिन को ख़ुशगवार

1. शान

शान के नाम बॉलीवुड के कुछ सबसे हिट गाने हैं. उनकी मीठी आवाज़ ने पहले 'तन्हा दिल' से जादू चलाया, तो फिर 'चांद सिफ़ारिश, 'तेरे नैना बड़े क़ातिल' से. सोनू निगम की तरह ही शान भी वर्सटाइल सिंगर हैं, लेकिन उनकी आवाज़ में रोमांटिक गानों का कोई मुक़ाबला नहीं कर सकता. शान की आवाज़ में जो सुकून है, वो जल्दी से और किसी की आवाज़ में नहीं आता.

2. K.K.

के.के. का नाम लिया और 'यारों दोस्ती...' न गुनगुनाये, ऐसा नहीं हो सकती. ये नाम और ये गाना स्कूल-कॉलेज के हसीन दिनों में ले जाता है, जब दोस्ती के मायने ही कुछ और होते थे. उस वक़्त ये गाना ऐसा कल्ट बना था कि स्कूल-कॉलेज के Farewell में इसे हमेशा गया जाता था. 'तड़प तड़प' को भी कैसे भूल सकते हैं, इस गाने ने Breakup के बाद अच्छे-अच्छों का दर्द बयां किया है. के.के. की आवाज़ दर्द और प्यार, दोनों के लिए बनी है. इस बात से हर कोई सहमत होगा.

3. मोहित चौहान

हालांकि मोहित अभी भी गए रहे हैं, लेकिन उतना Regularly है. उनका गया, 'डूबा डूबा' पहाड़ों में चलने वाली ठंडी हवा जैसा है और 'माये नई मेरिये' सुन कर रोंगटे खड़े हो जाते हैं. मोहित ने हाल ही में तमाशा के लिए भी गाया था.

4. कुणाल गांजावाला

'चन्ना वे घर आजा', ये गाना याद है, इसी गाने से हिट हुए थे कुणाल और इसके बाद हर प्लेलिस्ट का हिस्सा बन गए. कुणाल ने 2017 में जिस्म का एक गाना गया था. 'भीगे होंठ तेरे' गाने के बाद वो दिल में ऐसे बसे कि उनका नाम लेते ही ये गाना चलने लगता है. इस गाने से कुणाल की जादुई आवाज़ से मिलवाया था.

5. उदित नारायण

एक दशक से ज़्यादा प्लेबैक सिंगर के रूप में राज करने वाले उदित नारायण इस वक़्त बॉलीवुड से लगभग गायब हैं. उदित मॉडर्न बॉलीवुड की आवाज़ रहे हैं. एक समय था जब लगभग हर फ़िल्म के गानों में उनकी आवाज़ रहती थी. 'पापा कहते हैं', ' पहला नशा', 'उड़ जा काले कांवां' को उदित से अच्छा कोई नहीं गा सकता था.

6. अल्का याग्निक

'तुम आये तो आया मुझे याद, गली में आज चांद निकला'... ये गाना शायद अल्का याग्निक के लिए ही बना था. तमाशा में जब उन्होंने 'अगर तुम साथ हो' गाया, तो एहसास हुआ कि वो काफ़ी समय से नहीं गा रही हैं. एक समय था, जब हर कैसेट पर सिंगर में अलका याग्निक का नाम लिखा रहता था. यूं लगता था कि ये नाम ऐसे ही रहेगा.

7. सोनू निगम

ऐसा कौन सा गाना है, जो सोनू निगम ने नहीं गाया और नहीं गए सकते। उनके कुछ बेहतरीन गानों में से एक है, 'कल हो न हो', 'अभी मुझ में कहीं', 'दिल'... लिस्ट बहुत लम्बी है, लिखते-लिखते अरसा निकल जाएगा. सोनू निगम भले ही अब कम गए रहे हों, लेकिन दिल में उनके लिए अभी भी वही जगह है.

8. कविता कृष्णामूर्ति

वो प्यारी से हंसी और उतनी ही प्यारी आवाज़। कविता कृष्णमूर्ति का गाया 'प्यार हुआ चुपके से' सुनने के बाद दिल को जो सुकून मिलता है, उसका कोई हिसाब नहीं। बुरा लगता है कि अब वो गिने-चुने गाने ही गाती हैं, लेकिन उनकी आवाज़ में आज भी वही बात है.

9. लकी अली

पॉप एल्बम के ज़माने का ऐसा कौन बच्चा है, जिसने Loop पर लकी अली के गाने न सुने हों. 'ओ सनम' की आज भी वही जगह है, जो उस समय थी. हाल ही में लकी अली ने तमाशा का 'सफ़रनामा' गाया था, ये गाने पुराने दिनों की यादें दे गया.

इस बात से इंकार नहीं कि इस समय एक्सपेरिमेंटल सिनेमा का दौर चल रहा है और इस दौर में हर तरह के सिंगर मौजूद हैं, लेकिन इस बात से भी इंकार नहीं कर सकते कि ये सिंगर्स दिल में जो जगह बना चुके हैं, वो हमेशा ऐसी ही रहेगी. आशा करते हैं, बीच-बीच में हमें Surprise देते हुए ये सिंगर अपनी आवाज़ सुना दिया करेंगे.