एक निर्दोष भारतीय को कैद में रख कर उसे फांसी की सजा सुनाने वाली पाकिस्तान सरकार और अधिकारियों का एक अजीब बयान सामने आया है. बयान में कहा गया है कि कुलभूषण जाधव को बचाने के लिए भारतीय सेना ने उनके एक पूर्व Lt. Col. Mohammad Habib का अपहरण कर लिया है.

इस बयान में ये भी कहा गया कि उन्हें 6 अप्रैल को नेपाल से कि़डनैप किया गया है, जब वो किसी काम से वहां गए हुए थे. उन्होंने ये आरोप भी लगाया है कि ये किडनैप कुलभूषण जाधव को छुड़ाने के लिए किया गया है, जिसे पाकिस्तान में 10 अप्रैल को फांसी की सजा मिलेगी.

Source: mosthdwallpapers

इन अधिकारियों ने कहा कि ये बात वो पुष्टी के साथ कह रहे हैं. उनके मुताबिक जब Lt. Col. Mohammad Habib नेपाल एयरपोर्ट से बाहर निकले, तो उन्हें एक भारतीय मिला, जो उन्हें होटल ले गया. साथ ही उन्हें ये पता चला है कि भारतीय जासूस काफ़ी वक़्त से Lt. Col. Mohammad Habib के बारे में जानकारियां निकाल रहे थे. उसी दिन से Habib गायब हैं.

Source: khybernews

वहीं जाधव के बारे में इन अधिकारियों ने बताया कि जाधव पाकिस्तान में आतंकवाद फ़ैलाने का काम करता था. उसने साल 2001 में भारतीय नेवी ज्वाइन की थी, वहां से वो इराक गया और नकली प्रमाण पत्र बनवा कर पाकिस्तान में रहने लगा. जाधव ने अपने जुर्म कबूले हैं. ऐसे में उसे किसी भी कीमत पर छोड़ा नहीं जाएगा.

Story Source: HT