इंटरनेट पर आपको कोई भी ऐसा पोस्ट मिल जाए, जिसका संबंध कैसै भी इंडिया-पाकिस्तान से है, तो सीधे उसके कमेंट बॉक्स में जाना. आपको इतनी गालियां पढ़ने के लिए मिलेंगी, जो आपकी आंखें ख़राब... बहुत ख़राब करने के लिए काफ़ी होंगी.

लेकिन हमें एक ऐसा पोस्ट मिला, जहां लोग प्यार लुटा रहे थे. गालियों का नाम-ओ-निशां दूर-दूर तक नहीं था. लग ही नहीं रहा था कि पाकिस्तान और भारत के लोगों के बीच कोई बैर या रंजिशें हैं.

एक पाकिस्तानी भाई साहब को अपने एक दोस्त की शादी में हैदराबाद आना था, उन्होंने Question/Answer Thread Reddit पर लोगों से सलाह-मशवरा करना ठीक समझा कि वहां क्या खाया जा सकता, कहां घुमा जा सकता है.

इस थ्रेड पर भारतीय इकट्ठा हो गए, और जैसी उम्मीद थी, वैसा कुछ नहीं हुआ. लोगों ने उस पाकिस्तानी शख़्स को अच्छी-अच्छी जगहों के बारे में बताया. मज़ाक-मज़ाक में ये भी बताया कि यहां किन चीज़ों से बच कर रहना है.

वो उसे ये भी बताने लगे कि कहां की बिरयानी खानी चाहिए और किस जगह की बिरयानी Overrated है.

जब पता चला कि पाकिस्तानी शख्श केरल भी जा सकता है, तब केरलवासी भी मेज़बानी के लिए तैयार दिखे और खुले दिल से उसे केरल आने का निमंत्रण देने लगे.

बातों की सिलसिला जब आगे बढ़ा, तो पता चला कि उस पाकिस्तानी भाईसाहब की परिवरिश कुवैत में हुई थी, जहां उनकी दोस्ती भारत के अपने इस दोस्त के साथ हुई. दोनों साथ-साथ बड़े हुए. बाद में पाकिस्तानी दोस्त कनाडा चला गया और अपना हिन्दुस्तानी भाई भारत आ गया.

चूंकी कुवैत में भारत-पाकिस्तान के लोग ज़्यादातर साथ ही रहते है, यहां तक कि पाकिस्तानी बच्चे भी CBSE बोर्ड से पढ़ाई करते हैं. इसलिए जब पाकिस्तानी शख़्स पहली बार पाकिस्तान गया, तो वहां उसे अलग समाज देखने के लिए मिला, जिसकी उसे उम्मीद नहीं थी. अब भारत आने से पहले वो उम्मीद लगाए हुए है कि यहां के लोग वैसे ही हों जैसे उसने कुवैत में देखे थे.

इंटरनेट पर भारतीयों की गर्मजोशी देखकर उसकी उम्मीदें काफ़ी बढ़ गई होंगी. आशा है उसे भारत आ कर निराशा न हाथ लगे और वो हमारे देश से अच्छी यादें बटोर कर ले जाए.

Source: reddit