इंडियन नेवी के इतिहास में पहली बार किसी महिला पायलट को शामिल किया गया है. बरेली की शुभांगी स्वरूप को परमानेंट कमिशन के ज़रिये नेवी का हिस्सा बनाया गया है. आस्था सहगल, रूपा ए. और शक्तिमाया एस. भी नौसेना की आर्मामेंट इंस्पेक्शन ब्रांच में शामिल होने वाली पहली महिलाएं बनी हैं.

शुभांगी स्वरूप नौसेना की समुद्री टोही टीम में पायलट होंगी. बताया जा रहा है कि उन्हें P-8 विमान उड़ान का मौका मिलेगा. इसके साथ ही आने वाले समय में वो किसी शिप की कमान भी संभाल सकती हैं.

Source: indianexpress

शुंभागी के पिता नौसेना के कंमाडर हैं. इस ऐतिहासिक पल के बारे में बात करते हुए वो कहती हैं, 'मुझे पता है कि ये महज़ एक रोमांच का पल नहीं है, बल्कि एक बड़ी ज़िम्मेदारी है.' आगे बात करते हुए उन्होंने कहा कि ये मेरे लिए बहुत बड़ी चुनौती है और मैं आशा करती हूं कि देश की उम्मीदों पर ख़रा उतरूंगी.

शुभांगी को हैदराबाद में वायु सेना अकादमी में प्रशिक्षण के लिए भेजा जाएगा, जहां सेना, नौसेना और वायु सेना के पायलटों को ट्रेनिंग दी जाती है.

Source: indiatoday

आज महिलाएं देश-दुनिया में हर जगह अपनी कामयाबी का परचंम लहरा रहीं हैं. देश की महिलाओं को इस तरह से आगे बढ़ता देख कहा जा सकता है कि इनकी शक्ति का आकंलन करना मुश्किल ही नहीं, नामुकिन है.