जब-जब मैंने हवा में उड़ने की कोशिश की है, तब-तब मेरे मम्मी-पापा ने मुझे ज़मीनी हकीक़त दिखाने की साज़िश की है. इसका सीधा-सीधा मतलब ये है कि बात खाना बनाने की हो या पैसे बचाने की, जब भी हमें ख़ुद पर थोड़ा सा ग़ुरूर होता है, तब-तब मम्मी-पापा के कमेंट सुन कर ऐसा लगता है कि ये बातें बोल कर हमने बहुत बड़ी ग़लती कर दी.

मुझे य़कीन है कि आपके मम्मी-पापा ने कभी न कभी ये बातें ये ज़रुर बोली होंगी.

1.

2.

3.

4.

5.

6.

7.

8.

9.

10.

अगर आप भी घर पर पेरेंट्स से अकसर ये बातें सुनते रहते हैं, तो कमेंट में अपने दिल की बता बयां कर सकते हैं. अगर ये बातें हम नहीं समझेंगे, तो कौन समझेगा, भला!

Design By : Nupur Agrwal