भारत में जल्द ही एक ऐसा रेलवे स्टेशन बनाने वाला है, जिसमें ऑफ़िस और शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, एक 5 स्टार होटल और मल्टी-स्पेशिलिटी हॉस्पिटल होगा. एयरपोर्ट की तर्ज पर हबीबगंज रेलवे स्‍टेशन को हाईटेक बनाने की तैयारी शुरू हो चुकी है.

जी हां, मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के हबीबगंज रेलवे स्टेशन देश का पहला ऐसा स्टेशन बनने जा रहा है, जिसका पुनर्निर्माण करने के लिए सार्वजनिक-निजी साझेदारी की जा रही है. इस स्टेशन के पुनर्विकास और आधुनिकीकरण कार्य का लॉन्च रेलवे मंत्री सुरेश प्रभु द्वारा आज किया गया है.

हबीबगंज रेलवे स्‍टेशन के पुनर्विकास और आधुनिकीकरण का काम बंसल ग्रुप को दिया गया है. भारतीय रेलवे ने स्टेशन को एयरपोर्ट की तरह बनाने के लिए बंसल ग्रुप के साथ 8 सालों के लिए समझौता किया है. इसके साथ ही इसके लिए 4 बड़ी ज़मीनें, जिनका कुल क्षेत्रफल 17,245 वर्ग मीटर तक है, को लीज़ पर बंसल ग्रुप को 45 सालों के लिए दिया गया है. बंसल ग्रुप भोपाल स्थित एक बिजनेस ग्रुप है, जो निर्माण, इंफ़्रास्ट्रक्चर, शिक्षा और एक टेलीविजन चैनल भी संचालित करता है. ये ग्रुप सभी स्टेशन की सभी बुनियादी सुविधाओं जैसे बिजली, प्लेटफ़ॉर्म रखरखाव, पार्किंग, फ़ूड स्टॉल्स, रिटायरिंग रूम आदि की देखरेख भी करेगा.

हालांकि, टिकट, ट्रेन संचालन और सिग्नल सम्बन्धी मुख्य कार्यों का निजीकरण नहीं किया गया है. खास बात ये है कि बंसल ग्रुप 450 करोड़ रुपये की लागत से भोपाल के हबीबगंज रेलवे स्‍टेशन को रिडेवलप करेगा और इसमें रेलवे स्टेशन के यात्रियों वाले हिस्से की लागत 100 करोड़ रुपये रहेगी और कमर्शियल लैंड को 350 करोड़ रुपये विकसित करेगी.

पुनर्विकास का ये काम दो चरणों में किया जाएगा. पहले चरण में 2 ऑफ़िस और शॉपिंग कॉम्प्लेक्सेज़ का काम पूरा किया जाएगा. जबकि दूसरे चरण में मल्टी-स्पेशिलिटी हॉस्पिटल और 5 स्टार होटल काम शुरू होगा. स्टेशन के लिए बिजली की आपूर्ति पर्यावरण के अनुकूल सौर पैनलों द्वारा की जाएगी.

इस तरह के स्टेशन बनाये जाने का प्रस्ताव 2010 में तत्कालीन रेल मंत्री ममता बनर्जी ने दिया था. वर्तमान रेलवे मंत्री सुरेश प्रभु ने इस परियोजना को पुनर्जीवित किया है.

Video Source: Mint

Source: topyaps