मेडिकल क्षेत्र में भारत ने एक और कामयाबी हासिल कर ली है. पुणे के Galaxy Care Laparoscopy Institute ने भारत का पहला गर्भाशय ट्रांसप्लांट आॅपरेशन सफ़लता पूर्वक करवा लिया है. Dr Shailesh Puntambekar और उनकी 12 डॉक्टरों की टीम ने सफ़लतापूर्वक एक 41 वर्षीय मां का गर्भाशय उसकी बेटी में ट्रांसप्लांट किया. गुरुवार को दोपहर 12 बजे शुरू हुआ ये आॅपरेशन, रात 9:15 बजे तक चला.

रिपोर्ट के अनुसार, बेटी का जन्म से ही गर्भाशय नहीं था और उसे अपने बच्चे की चाह थी. वो सरोगेसी या बच्चा गोद लेने को तैयार नहीं थी. इन मां बेटी को गर्भाशय ट्रांस्प्लांट सर्जरी की जानकारी थी, जिसके बाद उन्होंने डॉक्टरों से बात थी. इत्तेफ़ाक से ये मां मेडिकल रूप से भी उचित गर्भाशय डोनर थी. डॉक्टर ने बताया कि ये भारत का पहला गर्भ प्रत्यारोपण था. 21 वर्षीय लड़की को अभी आईसीयू में डॉक्टरों की देख-रेख में रखा गया है.

Source: RBK

इससे पहले ये आॅपरेशन स्वीडन में 2013 में हुआ था. तब से अब तक दुनियाभर में ऐसे 25 ट्रांसप्लांट हो चुके हैं.