भारत में मानवरहित क्रॉसिंग से हर साल कई एक्सिडेंट्स होते हैं. मानवरहित क्रॉसिंग वो होती है, जिस रेलवे क्रॉसिंग पर कोई फ़ाटक नहीं होता. भारत में ऐसी हज़ारों ​क्रॉसिंग हैं, जहां लोगों को ट्रेन के आने का पता नही चलता और वो उसकी चपेट में आ जाते हैं. रेलवे मंत्रालय ने इसके सुधार की बात बजट पेश करते वक़्त कही थी और अब ISRO की मदद से ये संभव हो रहा है.

Source- Tribune

ISRO का सैटेलाइट आधारित चिप सिस्टम अब ऐसी मानवरहित क्रॉसिंग पर लोगों को ट्रेन आने पर सचेत करेगी. ISRO की ये इंटीग्रेटेड चिप, IC ट्रेन के इंजन पर लगेगी. ये Real-Time Basis पर ट्रेन को ट्रैक करेगी और हॉर्न बजा कर लोगों को सावधान करेगी कि ट्रेन नज़दीक है.

Source- Dailymail

इस प्रोजेक्ट से जुड़े रेल मंत्रालय के अधिकारी के अनुसार-

सबसे पहले ये तकनीक मुम्बई और गुवाहाटी की राजधानी ट्रेनों में लगाई जाएगी. शुरुआत में 20 हार्न मुम्बई-गुवाहाटी रूट पर लगेंगे. प्लैन के अुनसार बाद में बाकी रूट पर भी इस तकनीक का इस्तेमाल होगा. ये हॉर्न ट्रेन आने के करीब 500 मीटर पहले एक्टिवेट हो जाएगा और लोगों को सचेत कर देगा. ट्रेन गुज़रने के बाद ये दोबारा बंद हो जाएगा. लोगों को सचेत करने के अलावा ये ट्रेन की रफ़्तार भी ट्रैक करेगा.

रेलवे मंत्रालय का ये फ़ैसला ख़तरे को कम कर सकता है.

Source- Indiatimes