राजस्थान में जोधपुर के उमेद हॉस्पिटल से एक ऐसा हैरान कर देने वाला वीडियो सामने आया है. वीडियो में आप देख सकते हैं कि हॉस्पिटल के ऑपरेशन थियेटर में 2 डॉक्टर आपस में लड़ते-झगड़ते दिखाई दे रहे हैं, जिस कारण प्रेग्नेंट लेडी की सिजे़रियन डिलीवरी में देरी हो गई और नवजात शिशु की हार्ट बीट धीमी होने के कारण शिशु ने महिला के गर्भ में ही दम तोड़ दिया.

Image Source : navbharattimes

वहीं अब इस ख़बर में एक नया मोड़ आ गया है, राजस्थान के Department of Information and Public Relations ने अपनी सफ़ाई पेश करते हुए कहा कि ऑपरेशन थियेटर में मौजूद दो डॉक्टर्स के बीच बहस ज़रूर हुई थी, लेकिन फ़िलहाल मां और बच्चा दोनों सेफ़ हैं और उनकी जान को कोई ख़तरा नहीं है.

घटना बीते मंगलवार की है, उमेद हॉस्पिटल में प्रेग्नेंट महिला ऑपरेशन टेबल पर पड़ी हुई थी और डॉक्टर अशोक नैनवाल और एमएल टाक आपस में लड़ रहे हैं. OT में इन डॉक्टर्स की ये सारी हरकत कैमरे में कैद हो गई.

क्या थी झगड़े की वजह?

रिपोर्ट के मुताबिक, डॉ. अशोक नैनवाल ने डॉ. एमएल टाक से पूछा कि मरीज़ ने ऑपरेशन से पहले कुछ खाया है या नहीं? इस बात पर डॉ. ने एक जूनियर डॉक्टर से महिला का टेस्ट करने के लिए कहा. बस इसी बात पर डॉ. नैनवाल को इतना गुस्सा आया कि उन्होंने डॉ. एमएल से ये तक कह डाला कि 'तुम औकात में रहो'.

OT में दोनों डॉक्टरों को झगड़ते देख एक नर्स ने बीच-बचाव की कोशिश, लेकिन दोनों डॉक्टर्स ये भूल गए कि एक महिला बेसुध टेबल पर पड़ी है और उसे इस वक़्त इलाज की ज़रूरत है.

मीडिया में मामले को तूल पकड़ता देख हॉस्पिटल के प्रिंसिपल एएल भट्ट ने बयान देते हुए कहा, 'दोनों डॉक्टरों को सस्पेंड कर दिया गया है और उन पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी'.

Source : indianexpress