सोशल मीडिया पर किसी को भी गाली देना जितना आसान है, उतना कहीं नहीं. कारण बहुत ही सिंपल है, सोशल मीडिया पर बचकर निकलना जो आसान है.

चाहे किसी को अपने Private Parts की तस्वीर भेज कर गरिया दो, या फिर उसकी बात पसंद न आए, तो उसके खिलाफ़ ऐसे-ऐसे कैंपेन चला दो, कि वो दोबारा कुछ कहने की हिम्मत न करे.

Source: IndiaToday.in

यहां पर ध्यान देने वाली बात ये है कि ये घटनाएं ज़्यादातर महिलाओं या लड़कियों के साथ ही होती हैं. Twitter हो या Facebook, हर जगह उन्हें ट्रोल किया जाता है.सेलीब्रिटिज़ हों या आम नागरिक, कोई भी ट्रोल से नहीं बच पाता. ट्विटर पर गंदी-गंदी बातों से लेकर Facebook पर गंदी-गंदी तस्वीरों तक, सब कुछ बर्दाशत करना पड़ता है.

साइबर सेल में शिकायत भी बहुत कम ही की जाती है और जितनी शिकायतें दर्ज की भी जाती है, उनमें से बहुत कम की ही सुनवाई हो पाती है. ये कह कर टाल दिया जाता है, 'आपकी शिकायत में उतनी अश्लीलता नहीं थी.' खैर, ये निजी अनुभव है.

Source: TheKashmirwalla.com

राणा अय्यूब... बस नाम ही काफ़ी है. Gujarat Files: Anatomy of a Cover Up, अब तो आप समझ गए होंगे कि हम किसकी बात कर रहे हैं. इस किताब ने कई लोगों की रातों की नींद और दिन का चैन छीन लिया था.

राणा ने एक बार फिर वो कर दिखाया है, जो बहुत से लोगों के लिए एक मिसाल है. राणा को अपने काम और आर्टिकल्स के लिए कई बार ट्रोल का सामना करना पड़ा है.

हाल ही में राणा अय्यूब को बालाचंद्रन लाल नाम के शख्स ने Facebook पर गंदे मैसेज भेजे. राणा ने उन घटिया Messages के स्क्रीन-शॉट लिए और Tweet कर दिया. Tweet के साथ ये भी लिखा,'ये तो बस एक नमूना है, ऐसे मैसेज तो रोज़ाना ही आते हैं. पर अब वक़्त है ऐसे लोगों को सबक सिखाने का.' बालाचंद्रन यूएई(संयुक्त अरब अमीरात) का रहने वाला है और वहीं की कंपनी, Shadi Al Refai में काम करता है.

राणा ने कुछ दिनों बाद एक दूसरे Tweet में बताया कि उनके Harasser का वीज़ा कैंसिल कर दिया गया है और उसे नौकरी से भी निकाल दिया गया है. जनाब बर्नोल लेने के लिए स्वदेश लौट रहे हैं.

यहां राणा अय्यूब के साथ-साथ इस कंपनी की भी दाद देनी पड़ेगी, जिसने तुरंत उस व्यक्ति पर कड़ी कार्यवाई की.

BuzzFeed India से बात करते हुए राणा ने बताया कि इस व्यक्ति ने अपनी प्रोफ़ाइल से मैसेज किए थे. Profile Picture में इस शक्स ने अपनी और अपनी बीवी की तस्वीर लगा लगी रखी थी.' अब इस एक गलती का ख़ामियाज़ा इस इंसान को आने वाले कई सालों तक भुगतना पड़ेगा.

हम राणा अय्यूब के इस कदम की सराहना करते हैं.

लोगों को ये बात समझनी चाहिए कि किसी को मां की....बहन की.... कह कर कुछ हासिल नहीं होता. हर कोई आपकी इन गालियों से नहीं डरता, पर आप ऐसा करके खुद की ही बेइज़़्जती करवाते हैं.

Source: Buzzfeed India