ज़मीनी स्तर के उदय फाउंडेशन ने दिल्ली के एलजी अनिल बैजल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक से पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर कई असंवेदनशील मीम्स और वीडियोज़ नज़र आ रहे एक किशोर लड़के की मदद करने की मांग की है.

Source: Indiatoday

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इन मीम्स और फ़ोटोज़ को धीरज शर्मा की डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म Nashebaaz - The Dying People of Delhi की एक क्लिप से लिया गया था.

इस क्लिप में ये लड़का जिसका नाम कमलेश है और वो 13 साल का है, इन्टरव्यू लेने वाले व्यक्ति को बताता है कि वो 90 रुपये में एक सोल्यूशन खरीदता है और उसे इसकी बुरी लत है. इसके साथ ही वो बताता है कि वो कूड़ा-करकट, प्लास्टिक की बोतलें आदि बीनकर एक दिन में 100-150 रुपये कमा लेता है.

उदय फाउंडेशन ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा,

'हम सभी को इस वीडियो क्लिप को देखने के बाद गहरा दुःख पहुंचा है. उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर वीडियो पर वीडियो का लिंक भी शेयर किया है.'

इसके साथ ही फाउंडेशन ने अपने ट्वीट में दिल्ली के गवर्नर, सीएम केजरीवाल और पुलिस कमिश्नर के वैरिफ़ाइड ट्विटर हैंडल्स को भी टैग किया है और उनसे कमलेश की मदद करने की अपील की है. हालांकि, अभी तक इन तीनों में से किसी ने भी इस पर अपनी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है.

वहीं टेलीविज़न एक्टर आदिल हुसैन ने एक ट्वीट में कहा, इस पर तत्काल ध्यान देने की ज़रूरत है. मीम्स और क्लिप में वीडियो की नकल कर सोशल मीडिया पर लोगों द्वारा कमलेश का मज़ाक उड़ाया जा रहा है.

वहीं एक यूज़र ने लिखा, 'मैं यहां कुछ अजीब और फनी वीडियोज़ को देखने के लिए सोशल मीडिया पर ऑनलाइन हुआ था, लेकिन ये वीडियो देखने के बाद मैं इस बच्चे के लिए काफ़ी बुरा महसूस कर रहा हूं. ये वो वीडियो था जिसे एडिट भी नहीं किया गया था.

इस वीडियो में जब कमलेश से पूछा गया कि उसको सबसे ज़्यादा क्या पसंद है, तो उसने अपने हाथों में पकड़ी हुई एक छोटी सी बोतल की ओर इशारा करते हुए कहा, 'ये सोल्यूशन'.

जब उससे पूछा गया कि उसका को सपना है, तो उसने चार चीज़ों का नाम लिया!

कबाड़ बेचना, पीना, खेलना और ड्रग्ज़ के रूप में 'Solution' का नशा करना.

यहां आप उस डॉक्यूमेंट्री का वो क्लिप देख सकते हैं, जिसमें कमलेश को कवर किया गया है.

Video Source: Neeraj Agnihotri

Source: indiatoday