आम जनता हो या सेलिब्रिटी गोल-गप्पे हर किसी को पसंद होते हैं, लेकिन सबसे ज़्यादा बुरा तब लगता है जब गोल-गप्पे वाले भईया इन्हें खिलाने के लिए, लंबा इंतज़ार करवाते है. सही कहा न, लेकिन अब आपको गोल-गप्पों के लिए लंबा इंतज़ार नहीं करना पड़ेगा, हम ऐसा क्यों कह रहे हैं, ये भी जान लीजिए.

मनिपाल इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी के छात्रों ने एक ऑटोमेटिक पानी पुरी वेंडिंग मशीन का निर्माण किया है. अब आपको गोल-गप्पे खाने से पहले साफ़-सफ़ाई और स्टॉल पर लगी लंबी कतार के बारे ज़्यादा सोचना नहीं पड़ेगा. इस वेडिंग मशीन को बनाने के पीछे की कहानी भी काफ़ी रोचक है.

दरअसल, इंस्टीट्यूट में पढ़ने वाली चार छात्रा साहस गम्बाली, नेहा श्रीवास्तव, सुनंदा सोमु, करिश्मा अग्रवाल गोल-गप्पे खाने के लिए बाहर निकली. इस दौरान उन्हें गोल-गप्पे खाने के लिए इंतज़ार करना पड़ा, क्योंकि गोल-गप्पे के स्टाल पर बहुत ज़्यादा भीड़ थी और स्टॉल पर साफ़-सफ़ाई भी थोड़ी कम थी. ऐसे में इन छात्राओं को आईडिया आया कि क्यों कि गोल-गप्पे बनाने वाली मशीन बनाई जाए, ताकि गोल-गप्पा लवर आसानी से कहीं भी इसका लुफ़्त उठा सके.

Image Source : foodsandflavorsbyshilpi

मशीन में फ़्लेवर का फ़ीचर भी है, मतलब आपको खट्टा, कड़वा, मीठा या चटपटा जैसे भी गोल-गप्पा खाना हो, ये मशीन आपकी ख़िदमत में पेश कर देगी. इसके साथ ही इस मशीन में मल्टीप्लेयर मोड की भी सुविधा है, यानि गोलगप्पे खाते वक़्त, दोस्त इसे लेकर एक-दूसरे से कॉम्पटीशन भी कर सकते हैं. वैसे ये मशीन पूरी तरह से ऑटोमैटिक है. बस इसके अंदर सामान आपको ख़ुद डालना पड़ेगा.

मशीन बनाने वाली छात्राओं ने बताया कि 'इसे शॉपिंग मॉल और शॉप के उद्देश्य से बनाया गया है, साथ ही भविष्य में इसके और ऑपशन आ सकते हैं.'

Source : indianexpress