किसी व्यक्ति की उम्र अगर 12 साल है, तो उसके साथ हम, बच्चे, स्टूडेंट, खिलाड़ी जैसे सर्वनाम का इस्तेमाल करते हैं. लेकिन क्या हो अगर हम कहें कि भारत के सबसे छोटे पिता की उम्र 12 साल है तो. इतनी छोटी उम्र के साथ पिता का टाइटल जुड़ना अजीब ही नहीं ग़ैरक़ानूनी भी है.

कुछ दिनों पहले केरल के Ernakulam के एक अस्पताल में ऐसा ही वाकया सामने आया. एक 16 साल की लड़की ने एक बच्ची को जन्म दिया. इस बच्ची का पिता 12 साल का लड़का है. पिता और बच्ची दोनों के खून से डीएनए प्रोफ़ाइल बनाई गई और वैज्ञानिक विश्लेषण किया गया. रिपोर्ट में पाया गया कि ये लड़का ही बच्ची का जैविक पिता है. अब तक के रिकॉर्ड में ये लड़का भारत का सबसे छोटा पिता है.

Source: AP

Protection of Children from Sexual Offences (POCSO) Act के तहत इन मां-बाप और बच्चे की निजि जानकारी गोपनीय रखी गई है.

तिरुवनंतपुरम के मेडिकल कॉलेज अस्पताल के एंडोक्रिनोलॉजी विभाग के प्रमुख, डॉक्टर पी.के. जब्बार ने The Hindu को बताया कि इस बच्चे को ‘Precocious Puberty’ हो सकती है. ऐसी​ स्थिति में बच्चे में बहुत कम उम्र में प्यूबर्टी आ जाती है.

पुलिस ने लड़के ​के खिलाफ़ POCSO Act के अंतर्गत केस दर्ज किया था. ये केस एक क़ानूनी पहेली सा बन कर रह गया है क्योंकि इसमें पीड़ित और अपराधी दोनों नाबालिग हैं.

Article Source- The Hindu