आए दिन हम सभी को ट्रैफ़िक जाम का सामना करना पड़ जाता है. ट्रैफ़िक जाम में फंसी एंबुलेंस को जगह न मिलने की वजह से न जाने, कितने लोग बीच रास्ते में ही दम तोड़ देते हैं. वहीं करेल ने ट्रैफ़िक जाम से निपटने का एक ख़ास तोड़ निकाला है.

केरल के मोहम्मद जासिम और मोहम्मद सादिक, 'Intelligent Road Traffic Management System' लेकर आए हैं, जिससे अब जाम में फंसकर मासूमों की मौत नहीं होगी. इस सिस्टम को 'Traffitizer' नाम दिया गया है. Traffitizer- Emergency Response System (T-ERS) पर आधारित है.

'Traffitizer' का मुख़्य उद्देश्य आपातकालीन वाहनों को समय पर अस्पताल पहुंचाना है. सड़क पर ट्रैफ़िक के वक़्त ये सिस्टम, वाहनों को सही रास्ते पर जाने के लिए आगाह करेगा.

RSET के प्रिसिंपल डॉक्टर उन्नीकृष्णन ने बताया, 'इस App के ज़रिए एंबुलेंस ड्राइवर, लोगों को ये बता सकता है कि रोगी की स्थिति काफ़ी नाज़ुक है और वो उसे जाम से निकलने के लिए जगह दें.'

नई-नई टेक्नोलॉजी को अपना कर केरल काफ़ी आगे निकल रहा है. इस मामले में केरल की जितनी तारीफ़ की जाए, उतनी कम है. वहीं बाकी राज्यों को भी केरल से कुछ सीख़ना चाहिए.