गुरु अगर विज्ञान नहीं पढ़ा है, तो पुरानी किताबें निकाल कर पढ़ लो, क्यों​कि हमारे देश के बुद्धीजीवी लोग अब सिर्फ़ विज्ञान पर ही टिप्पड़ी करते हैं. कुछ दिनों पहले हाई कोर्ट के माननीय जज ने मोर की सेक्स लाइफ़ पर टिप्पड़ी की थी, कि मोरनी मोर के आंसू पी कर प्रेग्नेंट होती है.

जज साहब का वो बयान था और देश भर के मोरों की नाइट लाइफ़ बर्बाद हो गई!

Source- Contentful

राष्ट्रीय पक्षी के बाद अब बात राष्ट्रीय माता पर आते हैं. केरल के आध्यात्मिक आक्षम 'The Bhagavatham Village' के गुरु स्वामी, उदित चैतन्या​ के मुताबिक, गाय पवित्र तो होती ही है साथ में उसके सींग में कुछ खास बात भी होती है.

उनके मुताबिक गाय के सींग रेडियोएक्टिव तरंगें खींच लेते हैं!

Source- Zingerbyg

स्वामी जी ने कहा कि गाय के सींगों के बीच में रेडियो रख दो, तो आपको प्रोग्राम सुनाई नहीं देगा! बस हमममम....... सा शोर सुनाई देगा!

Source- Imgur

उन्होंने अपने ज्ञान के दूसरे अध्याय में बताया कि गाय शोर को कम कर उसे, 'ओम' में बदल देती है और वातावरण से सारी ख़तरनाक तरंगे खींच लेती है!

रेडियोएक्टिविटी के बाद स्वामी जी ने एटॉमिक फ्यूज़न पर प्रकाश डाला और बताया कि एटॉमिक पावर स्टेशन में परमाणुओं को तोड़ने के लिए प्लूटोनियम का इस्तेमाल होता है!

ये बात तो स्वामी जी ने सही कही, लेकिन इसके बाद गोबर कर दिया!

स्वामी जी ने कहा कि गाय के गोबर में प्लूटोनियम होता है!

Source- Netanimation

गोबर किया है तो मूत्रविसर्जन भी बनता था, स्वामी जी ने अगले ही पल कह दिया कि गोमूत्र से कैंसर का इलाज होता है.

स्वामी जी के इस बयान के बाद भारत भर की गाएं हवा में उड़ने लगीं!

Source- Vignette

Source- Story Pick

Video Source- Facebook