किसी भी इंसान को मौत के बाद एक सम्मानजनक अंतिम संस्कार का अधिकार है. ये बात हर धर्म में लिखी है कि नए जीवन के आगमन की तरह ही इन्सान की विदाई भी समानजनक तरीके से होनी चाहिए.

1800 में एक छोटी बच्ची की मौत के बाद उसे ऐसे ही सम्मानपूर्वक एक कॉफ़िन में दफ़नाया गया था. इस बच्ची का सम्बन्ध उस समय के एक रसूखदार परिवार से था. इसका नाम फिर से सामने इसलिए आया है, क्योंकि सालों पहले दफ़नाई गयी ये बच्ची, अपने कॉफ़िन में अभी भी पूरी तरह से सुरक्षित है.

इस बच्ची की बॉडी, San Francisco के एक घर के नीचे से मिली. ये बॉडी, ब्रोंज़ के एक ताबूत में बंद थी. इस बच्ची का नाम Edith Howard Cook है और इसकी आइडेंटिटी का पता तब चला, जब Cook खानदान के एक जीवित व्यक्ति के DNA से इसके सैंपल को मैच किया गया.

कहा जा रहा है कि Edith की मौत अपने तीसरे जन्मदिन से कुछ दिन पहले ही कुपोषण की वजह से हुई थी. Edith की बॉडी पर लैवेंडर और रोज़ के फूल रखे गये हैं और उसने Lace की फ्रॉक पहनी हुई है.

इतने सालों तक इस तरह से Preserved बॉडी को देखने के बाद सभी काफ़ी चकित थे.

Source: Unilad