2017 के आखिरी दिन देश के सबसे प्रभावशाली नाम रजनीकांत ने राजनीति से जुड़ने की घोषणा की, इस ख़बर के साथ ही चारों ओर हलचल मच गई. रजनीकांत ने चेन्नई के श्री राघवेंद्र कल्याण मंडपम में अपने पॉलिटिक्स में उतरने की ख़बर सबको सुनाई. इसके साथ ही उन्होंने ये भी साफ़ कर दिया कि वो किसी भी अन्य राजनीतिक पार्टी को उनकी स्टारडम का फ़ायदा नहीं उठाने देंगे.

अभी साउथ के सुपरस्टार ने पॉलिटिक्स में एंट्री लेने का ऐलान किया ही था कि सोशल मीडिया में अचानक एक तस्वीर नज़र आती है. वायरल तस्वीर में रजनीकांत उत्तरप्रदेश के मुख़्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ बैठे नज़र आ रहे हैं. फ़ोटो में मुख़्यमंत्री के बगल में दो साधु भी बैठे हुए हैं. सुपरस्टार के चेहरे पर हंसी है, साथ ही वो दोनों हाथ भी जोड़े हुए दिखाई रहे हैं. ऐसा लग रहा है मानों मुस्कुराहट के साथ सबका स्वागत कर रहे हैं.

तस्वीर को लेकर लोगों ने अलग-अलग तरह की अटकलें लगानी भी शुरू कर दीं, वो भी बिना पूरी सच्चाई जाने. अगर आप भी सभी की तरह ये सोच रहे हैं कि फ़ोटो में सुपरस्टार रजनीकांत हैं, तो ये सच नहीं है. दरअसल, 31 दिसबंर 2017 को सीएम योगी ने आखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष और कई साधुओं के साथ एक मीटिंग आयोजित की थी. ये मुलाकात बीते 2 जनवरी को इलाहाबाद में माघ-मेला तैयारियों को लेकर की गई थी.

Source : boomlive

इसके साथ वायरल फ़ोटो में जिस जगह रजनीकांत को बैठे हुए दिखाया है, असल में वो जगह बिल्कुल खाली है. इतना ही नहीं, उस खाली जगह पर कोई चेयर तक नहीं पड़ी है. सोशल मीडिया पर वायरल इस तस्वीर को इतने शानदार तरीके से फ़ोटोशॉप किया गया था कि कोई भी शख़्स इसे देख कर धोखा जाए, लेकिन सच क्या है वो अब आप जान ही चुके हैं.

Source : ayupp